Sun. Oct 17th, 2021

स्वचालित के-9 वज्र तोपों के साथ 130 मिमी आर्टिलरी गन का प्रदर्शन


बीकानेर, 21 सितंबर (हि.स.)। भारतीय सेना के नवीनतम स्वचालित के-9 वज्र तोपों के साथ 130 मिमी आर्टिलरी गन का फायरिंग प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन एशिया की सबसे बड़ी महाजन फील्ड फायरिंग रेंज पर दक्षिणी पश्चिमी सेना कमान ने किया।

सेना के जन संपर्क अधिकारी लेफ्टिनेंट कर्नल अमिताभ शर्मा ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि आर्टिलरी रेजीमेंट में किसी भी चुनौती और हमारे कौशल को बढ़ाने के लिए के-9 वज्र नया उपकरण है। सेना इसकी क्षमताओं का परीक्षण कर रही है। यह सेना का वार्षिक परीक्षण और प्रदर्शन था। ऐसे परीक्षण और प्रशिक्षण सभी क्षेत्रों में युद्ध क्षमता को बढ़ाते हैं।

उन्होंने बताया कि आर्टिलरी रेजिमेंट मुख्य रूप से हथियारों को चलाने का ही काम करती है। युद्ध के समय इसी रेजिमेंट के पास सबसे महत्वपूर्ण काम होता है। दो दिनी अभ्यास के दौरान जवानों ने दुश्मन के एक ठिकाने को निशाना बनाया। अभ्यास कर रहे इन जवानों का निशाना एक बार भी नहीं चूका।