Sat. Sep 18th, 2021

08 सितंबर: इतिहास के पन्नों में


…ओ गंगा तू बहती है क्योंःअपने लिखे गीतों, आवाज और संगीत से जादुई स्पर्श का अहसास कराने वाले देश के महान संगीत साधक भूपेन हजारिका का जन्म 8 सितंबर 1926 को असम के तिनसुकिया जिले के सदिया में हुआ।

चमत्कृत कर देने वाली प्रतिभा के धनी भूपेन हजारिका एकसाथ गीतकार, संगीतकार और गायक थे तो लेखन, पत्रकारिता और फिल्म निर्माण में भी उनका खासा हस्तक्षेप था। असमिया कवि एवं लेखक होने के नाते ताउम्र असम की संस्कृति के बेजोड़ वाहक रहे। उन्हें दक्षिण एशिया के श्रेष्ठतम सांस्कृतिक दूतों में गिना जाता रहा।

हिंदी क्षेत्रों में ‘ओ गंगा तू बहती है क्यों ‘ या ‘दिल हूम हूम करे’ में भूपेन दा की आवाज को जिसने भी सुना, उनका मुरीद हो गया। उन्होंने फिल्म ‘गांधी टू हिटलर’ में महात्मा गांधी का प्रिय भजन ‘वैष्णव जन तो तेने कहिये’ भी गाया। असमिया के अतिरिक्त भूपेन हजारिका ने हिंदी, बांग्ला समेत कई भारतीय भाषाओं में गाया।

भूपेन हजारिका ने असम के तेजपुर से मैट्रिक की परीक्षा पास की और आगे की पढ़ाई गुवाहाटी के कॉटन कॉलेज से की। बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से एमए करने के बाद वे शिक्षा के लिए विदेश गए। उन्होंने न्यूयॉर्क स्थित कोलंबिया विवि से पीएचडी की डिग्री ली।

1992 में भूपेन हजारिका को सिनेमा जगत के सर्वोच्च सम्मान दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया। साल 2011 में उन्हें पद्मभूषण और 2019 में मरणोपरान्त भारत रत्न से विभूषित किया गया।

अन्य अहम घटनाएंः

1504ः इटली के फ्लोरेंस में माइकल एंजेलो की प्रसिद्ध कलाकृति डेविड का लोकार्पण।

1943ः दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान इटली की मित्र सेना के साथ बिना शर्त युद्ध विराम संधि पर हस्ताक्षर।

1952ः जेनेवा में कॉपीराइट के लिए पहले विश्व सम्मेलन में भारत सहित 35 देशों ने हिस्सा लिया।

1960ः भारतीय राजनेता और प्रधानमंत्री रहीं इंदिरा गांधी के पति फिरोज गांधी का निधन।

1962ः चीन ने भारत की पूर्वी सीमा पर घुसपैठ की।

1966ः पढ़ाई के प्रति जागरूक करने के लिए युनेस्को ने साक्षरता दिवस मनाने की शुरुआत की।

2002ः नेपाल में माओवादियों ने 119 पुलिसकर्मियों को मार डाला।