Wed. Sep 22nd, 2021

अगस्त महीने में जीएसटी का संग्रह 1.12 लाख करोड़ रुपये रहा


नई दिल्ली, 01 सितम्बर (हि.स.)। अगस्त महीने के अंतिम दिन और सितम्बर महीने की शुरुआत सरकार के लिए अच्छी खबर लेकर आई है। वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रह से पता चलता है कि अर्थव्यवस्था पटरी पर लौट रही है। अगस्त, 2021 में जीएसटी का संग्रह 30 फीसदी बढ़कर 1.12 लाख करोड़ रुपये पहुंच गया है।

केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीआईसी) ने जारी एक बयान में बताया कि अगस्त, 2021 में जीएसटी संग्रह 1,12,020 करोड़ रुपये रहा। जीएसटी संग्रह में से सीजीएसटी 20,522 करोड़ रुपये, एसजीएसटी 26,605 करोड़ रुपये और आईजीएसटी 56,247 करोड़ रुपये है। इसमें 26,884 करोड़ रुपये जीएसटी इंपोर्ट से आया है, जिसमें सेस का 8,646 करोड़ रुपये है।

वित्त मंत्रालय के मुताबिक अगस्त 2021 के लिए जीएसटी संग्रह पिछले साल के इसी महीने में जीएसटी राजस्व से 30 फीसदी ज्यादा है। अगस्त में जीएसटी संग्रह के आंकड़ों से पता चलता है कि अर्थव्यवस्था का पुनरुद्धार तेजी से हो रहा है। हालांकि, जुलाई 2021 में जीएसटी संग्रह 33 फीसदी बढ़कर 1.16 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया था, जबकि जून 2021 में जीएसटी संग्रह एक लाख करोड़ रुपये से कम यानी 92,849 करोड़ रुपये रहा था।

उल्लेखनीय है कि वित्त मंत्रालय ने जीएसटी के तहत विलंब शुल्क माफी योजना का लाभ उठाने की अंतिम तिथि 30 नवंबर, 2021 तक बढ़ा दी गई है। यह योजना 31 अगस्त, 2021 को खत्म होने वाली थी। रजिस्ट्रेशन को रद्द करने के लिए आवेदन दाखिल करने की समय-सीमा 30 सितम्बर तक के लिए बढ़ा दी गई है। इसके अलावा फॉर्म जीएसटीआर-3बी और जीएसटीआर-1/आईएफएफ को बढ़ाकर 31 अक्टूबर कर दिया गया है।