Fri. Oct 23rd, 2020

कालरॉक और मुरारी लाल जालान होंगे जेट एयरवेज के नए मालिक


कालरॉक और मुरारी लाल जालान वाली कंसोर्टियम ने जीती बोली



नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (हि.स.)। आर्थिक संकट में फंसी जेट एयरवेज को नया मालिक मिल गया है। लंदन के कालरॉक कैपिटल और संयुक्‍त अरब अमीरात के निवेशक मुरारी लाल जालान वाली कंसोर्टियम अब जेट एयरवेज का नया मालिक होगा। एयरलाइन कंपनी को कर्ज देने वालों ने इस कंसोर्टियम के रेजोल्यूशन प्लान को मंजूरी दे दी है।

जेट की दिवालिया प्रक्रिया के लिए नियुक्त किए गए रेजोल्यूशन प्रोफेशनल आशीष झावरिया ने स्टॉक एक्सचेंज को ये जानकारी दी है। उन्‍होंने स्‍टॉक एक्‍सचेंज को बताया है कि 17 अक्टूबर, 2020 को ई-वोटिंग की प्रक्रिया पूरी हो गई है। आशीष ने कहा है कि कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स ने इन्सोलवेंसी एंड बैंकरप्सी कोड (आईबीसी) के सेक्शन 30-(4) के तहत कालरॉक कैपिटल और मुरारी लाल जालान वाले कंसोर्टियम की बोली को मंजूरी दी है।

रेजोल्यूशन प्रोफेशनल ने कहा है कि अब आईबीसी के सेक्शन 30(6) तहत जीतने वाले प्लान को मंजूरी के लिए एनसीएलटी के सामने रखा जाएगा। एनसीएलटी की मंजूरी मिलने के बाद कंसोर्टियम को एयरलाइन का नया मालिक घोषित कर दिया जाएगा। एनसीएलटी से मंजूरी मिलने के बाद सदस्यों को इसकी जानकारी दे दी जाएगी।

गौरतलब है कि नकदी संकट की वजह से निजी क्षेत्र की सबसे बड़ी एयरलाइन कंपनी जेट एयरवेज का अप्रैल 2019 से संचालन बंद पड़ा है। एयरलाइन कंपनी के विमान कई एयरपोर्ट पर पार्किंग में खड़े हैं। जेट एयरवेज की स्थापना नरेश गोयल ने की थी।