Mon. Aug 2nd, 2021

उप्र: विधानसभा चुनाव में ब्राह्मणों को लुभाने के लिए बसपा करेगी सम्मेलन


लखनऊ, 18 जुलाई(हि.स.)। उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी(बसपा) की निगाहें एक बार फिर ब्राह्मण वोटबैंक की तरफ है। इसके लिए बसपा 23 जुलाई को श्रीराम नगरी अयोध्या से ब्राह्मण सम्मेलन का शुरूआत करेगी।

इसके पूर्व पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने आज एक वीडियो जारी कहा हैकि मुझे पूरी उम्मीद है कि ब्राह्मण अगले विधानसभा चुनाव में भाजपा को वोट नहीं देंगे। बसपा महासचिव एससी मिश्रा के नेतृत्व में 23 जुलाई को अयोध्या से ब्राह्मण समुदाय को जोड़ने का अभियान शुरु हो रहा है।

मायावती ने कहा कि बसपा शासन में ब्राह्मण के हित सुरक्षित होने का आश्वासन देने के लिए अभियान शुरू किया जाएगा। मैंने अपनी पार्टी के सांसदों को संसद के मानसून सत्र में देश और लोगों के लाभ से संबंधित मामलों को उठाने का निर्देश दिया है।

बसपा अध्यक्ष ने केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि ऐसे कई मामले हैं, जिन पर देश की जनता केंद्र सरकार से जवाबदेही चाहती है।

गौरतलब है कि ब्राह्मणों के बूते 2007 में बहुमत से सरकार बनाने वाली मायावती ने ब्राह्मणों को जोड़ने के लिए फिर एक बार ब्राह्मण सम्मेलन की शुरूआत करने जा रही हैं। यह सम्मेलन उप्र के जिलों में 23 से 29 जुलाई तक चलेगा।