Fri. Jul 30th, 2021

लखनऊ में पकड़े गए दोनों आतंकी 14 दिन की रिमांड पर यूपी एटीएस के हवाले


लखनऊ, 12 जुलाई (हि.स.)। राजधानी से गिरफ्तार किए गए अलकायदा के दो संदिग्ध आतंकियों मिनहाज अहमद और मशीरुद्दीन उर्फ मुशीर को यूपी एटीएस ने सोमवार को कोर्ट में पेश किया गया। एटीएस ने दोनों आतंकियों से पूछताछ के लिए 14 दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड की अर्जी कोर्ट में डाली थी, जिसे कोर्ट ने स्वीकृत कर लिया है। अब एटीएस और सुरक्षा जांच एजेंसियां इन दोनों से पूछताछ करेगी।

एटीएस मुख्यालय से लेकर चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनात

संदिग्ध आतंकी मिनहाज अहमद और मशीरुद्दीन को चार गाड़ियों के काफिले के साथ एटीएस कोर्ट लेकर पहुंची। दोनों के पहुंचने से पहले ही पुलिस वहां पहुंच चुकी थी और चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनात कर दी गई थी। इसके अलावा आतंकियों पहुंचने से पहले कोर्ट का पूरा परिसर खाली करा दिया गया था।

अयोध्या समेत काशी, मथुरा के मन्दिर भी थे निशाने पर

लखनऊ से गिरफ्तार किए गए अलकायदा के संदिग्ध आतंकियों के पास कई अहम दस्तावेज मिले हैं। इनका कानपुर से कनेक्शन भी जुड़कर आया है। सूत्रों की माने तो ये आतंकी अयोध्या में राम मंदिर को निशाना बनाने की योजना बना रहे थे। उनके पास से बरामद नक्शों से पता चला है कि इनके निशाने पर काशी, मथुरा के मंदिर भी थे। एटीएस के गिरफ्त में आने के बाद बड़ा हादसा टल गया।

उल्लेखनीय है कि यूपी एटीएस ने रविवार को दो संदिग्ध आतंकियों मिनहाज अहमद और मशीरुद्दीन उर्फ मुशीर को गिरफ्तार किया था। लखनऊ से गिरफ्तार किए गए दोनों आतंकवादी अलकायदा समर्थित अंसार गजवातुल हिंद संगठन से जुड़े हैं। ये लोग मानव बम बनकर 15 अगस्त से पहले लखनऊ समेत कई शहरों को दहलाने की साजिश कर रहे थे। इनके पास से प्रेशर कुकर बम और कई विस्फोट चीजे बरामद की गई है। एटीएस को कई अहम दस्तावेज और आतंक गतिविधियों से जुड़ी चीजें मिली हैं।