Mon. Nov 29th, 2021

कोरोना वायरस में बदलाव होने पर पड़ सकती है बूस्टर डोज की जरूरत – भारत बायोटेक


नई दिल्ली, 12 नवम्बर (हि.स.)। देश में हर घर दस्तक टीकाकरण अभियान के बीच भारत बायोटेक की तरफ से एक बड़ा बयान आया है। भारत बायोटेक के प्रबंध निदेशक डॉ कृष्णा एला का कहना है कि यदि आने वाले दिनों में कोरोना वायरस के वेरियंट में फिर कोई नया बदलाव होता है तो लोगों को कोविड रोधी वैक्सीन की बूस्टर डोज की जरूरत पड़ सकती है।

गुरुवार को डॉ एला ने कहा कि इस स्थिति से निपटने के लिए फास्ट ट्रैक के आधार पर काम किया जा सकता है। वैक्सीन की बूस्टर डोज की जरूरत पड़ती है तो टीके की अतिरिक्त डोज के लिए फास्ट ट्रैक के आधार पर उत्पादन और वितरण के लिए विभिन्न रणनीतियों को समाहित किया जा सकता है।

उधर, इस मुद्दे पर एम्स के न्यूरोलॉजी विभाग की प्रमुख प्रो. एमवी पद्मा श्रीवास्तव का कहना है कि देश में अब भी एक बड़े हिस्से को पूरी तरह से टीका लगाने की जरूरत है। अभी सिर्फ 35 फीसदी आबादी को ही टीका लगाया जा सका है। उन्होंने बताया कि जिन लोगों में पर्याप्त मात्रा में एंटीबॉडी नहीं बन रहे हैं, उन लोगों को कम से कम कुछ प्रतिरक्षा प्राप्त करने के लिए बूस्टर खुराक की आवश्यकता होगी।