Tue. Sep 21st, 2021

बाइडन ने अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना हटाने वाले खुद के फैसले का बचाव किया

FILE PHOTO: U.S. President Joe Biden speaks about his $2 trillion infrastructure plan during an event to tout the plan at Carpenters Pittsburgh Training Center in Pittsburgh, Pennsylvania, U.S., March 31, 2021. REUTERS/Jonathan Ernst


वॉशिंगटन, 01 सितम्बर (हि.स.)। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने अफगानिस्तान से अपने सैनिकों को हटाने के फैसले का बचाव किया है। जनता को संबोधित करते हुए बाइडन ने कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका के पास अब अफगानिस्तान में अपने सैनिकों को रखने का कोई स्पष्ट उद्देश्य नहीं बचा था। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में अमेरिकी सैन्य उपस्थिति बहुत पहले समाप्त हो जानी चाहिए थी और उन्हें अफगानिस्तान में युद्ध में अमेरिकी युवाओं की नई पीढ़ी को शामिल करने का कोई कारण नहीं दिख रहा था।

बाइडन ने कहा कि उन्होंने चुनावी अभियान के दौरान किए गए अपने वादे को पूरा किया है जिसमें उन्होंने कहा था कि अफगानिस्तान में अमेरिका की सैन्य मौजूदगी को खत्म कर दिया जाएगा। उन्होंने वादा किया था कि वह इस युद्ध को खत्म करेंगे और उन्होंने अपना वादा पूरा कर दिया है।

बाइडन ने कहा कि अफगानिस्तान में अमेरिकी सैन्य उपस्थिति अब संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रीय हित में नहीं है। बाइडन ने बताया कि पिछले 20 वर्षों में 800,000 अमेरिकियों ने अफगानिस्तान में सेवा की है। उन्होंने यह भी बताया कि इस दौरान अफगानिस्तान में 20,744 अमेरिकी सैनिक और महिलाएं घायल हुए हैं जबकि 2,641 अमेरिकी सैनिकों की मौत हुई है। मैंने युद्ध की एक और दशक की शुरुआत होने से रोक दिया है।