Mon. Aug 2nd, 2021

भारत सरकार रिहा करवाएगी आस्ट्रेलिया की जेल में बंद हरियाणवी युवक को


मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने विदेश मंत्री से की बातचीत

विदेश मंत्रालय ने ऑस्ट्रेलियन एंबेसी से मांगी रिपोर्ट



चंडीगढ़, 23 जून (हि.स.)। ऑस्ट्रेलिया की जेल में बंद हरियाणा के एक युवक की रिहाई को लेकर प्रदेश में जहां लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं। वहीं, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बुधवार सुबह विदेश मंत्री से इस बारे में बातचीत की। जिन्होंने आश्वासन दिया है कि भारत सरकार इस मुद्दे को आस्ट्रेलिया सरकार के समक्ष उठाएगी।
बताया जाता है कि आस्ट्रेलिया के सिडनी में कुछ लोगों द्वारा तिरंगे का अपमान किया जा रहा था। करनाल निवासी विशाल जूड ने देश विरोधी ताकतों से डटकर लड़ाई लड़ी और तिरंगे का अपमान नहीं होने दिया। विशाल के समर्थकों का दावा है कि देश विरोधी कुछ ताकतों ने विशाल जूड से मारपीट की और बाद में आस्ट्रेलिया सरकार से मिलकर झूठे केस में फंसाकर जेल भिजवा दिया। विशाल इस समय सिडनी की जेल में है।
विशाल की रिहाई को लेकर आस्ट्रेलिया में बसे भारतीयों द्वारा भी प्रदर्शन किया जा रहा है। इधर, हरियाणा में भी विभिन्न संगठनों द्वारा कई दिनों से प्रदर्शन किए जा रहे हैं।
विशाल जूड की रिहाई को लेकर बुधवार को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने विदेश मंत्री एस.जयशंकर से बात की और मामले में तत्काल हस्तक्षेप करने की अपील की। विदेश मंत्री ने ऑस्ट्रेलियन एंबेसी को भारत की चिंता से अवगत कराया और मुख्यमंत्री को विश्वास दिलाया कि विशाल जूड बहुत जल्द ऑस्ट्रेलिया की जेल से रिहा हो जाएगा।
इस बीच मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि मीडिया तथा कुछ लोगों के कारण उन्हें इस घटनाक्रम की जानकारी मिली। हरियाणा के कई संगठन विशाल की रिहाई के लिए अपने-अपने तरीके से संघर्ष कर रहे हैं। ऐसे में हरियाणवी होने के नाते सरकार का भी दायित्व है कि विदेश में फंसे युवक को बाहर निकाला जाए। अगर यह लड़ाई केवल तिरंगे के अपमान की थी तो विशाल ने भारतीय होने के नाते राष्ट्र के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाई है। हमें उम्मीद है कि आस्ट्रेलिया सरकार बहुत जल्द विशाल जूड को रिहा करेगी।