Wed. Sep 22nd, 2021

अमेरिका में 9/11 आतंकी हमला : सऊदी सरकार की भूमिका पर एफबीआई ने जारी किए गुप्त दस्तावेज


वाशिंगटन, 12 सितंबर (हि.स.)। अमेरिका में 20 साल पहले हुए 9/11 के सबसे बड़े हमले के बारे में सऊदी अरब सरकार की भूमिका को लेकर अमेरिका की खुफिया एजेंसी एफबीआई ने एक गुप्त दस्तावेज जारी किया है। दस्तावेज में हमले में शामिल आतंकियों से सपंर्क की बात कही गई है लेकिन सरकार की कोई भूमिका के कोई सबूत नहीं मिले हैं। इससे पहले सऊदी सरकार पर आतंकियों को फंड देने के आरोप लगते रहे हैं।

अमेरिका के संघीय जांच ब्यूरो (एफबीआई) ने 11 सितंबर 2001 में हुए आतंकी हमलों में इस्तेमाल किये गए विमानों के अपहरण में सऊदी अरब के दो लोगों के सहयोग से जुड़े 16 पृष्ठों का नया दस्तावेज जारी किया है। इसमें बताया गया है कि अपहरणकर्ता अमेरिका में सऊदी अरब के अपने साथियों के साथ संपर्क में थे लेकिन इसका कोई सबूत नहीं है कि इस साजिश में सऊदी अरब सरकार शामिल थी। शनिवार को जारी दस्तावेज में 2015 में एक ऐसे व्यक्ति के साक्षात्कार के बारे में जानकारी दी गयी है जिसने अमेरिकी नागरिकता के लिए आवेदन दिया था और कई साल पहले सऊदी अरब के उन नागरिकों से बार-बार संपर्क किया था।

राष्ट्रपति जो बाइडन के आदेश पर शनिवार को जारी किए गए इस दस्तावेज को अब तक गोपनीय रखा गया था। हाल के हफ्तों में पीड़ितों के परिवारों ने बाइडन पर दस्तावेज जारी करने का दबाव डाला है। वे लंबे समय से उन रिकॉर्ड्स को जारी करने की मांग कर रहे थे जो न्यूयॉर्क में चल रहे उनके मुकदमे में मददगार साबित हो सकते हैं। उनका आरोप है कि सऊदी अरब के वरिष्ठ अधिकारियों की हमलों में मिलीभगत थी।

सऊदी अरब सरकार किसी भी संलिप्तता से इनकार करती रही है। वाशिंगटन में सऊदी दूतावास ने बुधवार को कहा था कि वह सभी दस्तावेज जारी करने का समर्थन करता है ताकि उसकी सरकार के खिलाफ लगे निराधार आरोप हमेशा के लिए खत्म हो जाएं।