Sun. Oct 17th, 2021

काबुल में रॉकेट से हमला, कई रॉकेट दागे जाने से अफरातफरी


काबुल, 17 सितंबर (हि.स.)। अफगानिस्तान संकट के बीच गुरुवार की रात राजधानी काबुल में एक के बाद रॉकेट के हमलों से अफरा तफरी का माहौल रहा। अभी इस संबंध में कोई पुख्ता जानकारी नहीं पाई है कि ये हमला किसने और किस पर किया था। जानकारों के मुताबिक यह हमला आईएसआई द्वारा तालिबान पर किया गया था।

जानकारी के अनुसार ये रॉकेट हमले चमतलेह पावर स्टेशन को निशाना बनाकर किए गए हैं। वहीं, रॉकेट हमले के बाद आसपास के इलाके में हड़कंप मच गया है।

इससे पहले 26 अगस्त को काबुल हवाई अड्डे पर एक विस्फोट हुआ था, जहां तालिबान के कब्जे के बाद देश से भागने की कोशिश कर रहे कई लोग हताहत हुए थे। पेंटागन के प्रेस सचिव जॉन किर्बी ने एक ट्वीट में कहा था कि हम काबुल हवाई अड्डे के बाहर विस्फोट की पुष्टि कर सकते हैं। इस समय हताहतों की संख्या स्पष्ट नहीं है। तालिबान के एक नेता ने कहा था कि विस्फोट में महिलाओं और बच्चों सहित कम से कम 11 लोग मारे गए और कई तालिबान गार्ड घायल हो गए। अफगान पत्रकार बिलाल सरवरी ने एक ट्वीट में कहा कि विस्फोट एक सीवेज नहर में हुआ, जहां अफगानों की जांच की गई थी। उन्होंने कहा था कि एक आत्मघाती हमलावर ने बड़ी भीड़ के बीच में खुद को उड़ा लिया। कम से कम एक और हमलावर ने गोली चलानी शुरू कर दी, इलाके में कई चश्मदीद गवाह और एक दोस्त ने मुझे इसके बारे में बताया। ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय के सूत्र के हवाले से कहा गया था कि किसी भी ब्रिटिश हताहत होने की कोई रिपोर्ट नहीं है।