Mon. Nov 29th, 2021

असम में उग्रवादी संगठन डीएनएलए के मुखिया समेत सभी 80 कैडर का आत्मसमर्पण


डिमा हसाउ (असम), 13 नवम्बर (हि.स.)। असम सरकार को राज्य में शांति बहाली के मोर्चे पर आज फिर बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। राज्य के डिमा हसाउ जिला के नवगठित उग्रवादी संगठन डिमासा नेशनल लिबरेशन आर्मी (डीएनएलए) के मुखिया समेत सभी 80 कैडर ने आज पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के सामने आत्मसमर्पण कर दिया।

आत्मसमर्पण कार्यक्रम जिला मुख्यालय हाफलांग से लगभग 120 किलोमीटर दूर माइबांग सब डिविजन के खेप्रे खेल मैदान में आयोजित किया गया। इस दौरान दीपक केडिया आईजीपी (कानून व्यवस्था), एडीजीपी (विशेष) हिरेन नाथ मौजूद रहे। एनसी हिल्स स्वायत्तशासी जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी पार्षद, जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक आदि भी इस मौके पर मौजूद रहे। डीएनएलए के हथियार डालने के बाद पहाड़ी जिला डिमा हसाउ में एक बार फिर से शांति और विकास की उम्मीद जगी है। हाल ही में अन्य कई संगठनों ने भी आत्मसमर्पण किया है।