Fri. Sep 17th, 2021

अफगानिस्तान से आये 78 लोगों ने किया 14 दिनों का क्वारंटाइन पूरा


नई दिल्ली, 07 सितंबर (हि.स.)। अफगानिस्तान से निकाले गए 78 लोगों को भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) केंद्र, छावला कैंप, नई दिल्ली में 14 दिनों के अपेक्षित क्वारंटाइन अवधि को पूरा करने के बाद आज सुबह विदाई दे दी गई।

आईटीबीपी के प्रवक्ता विवेक पांडेय ने मंगलवार को बताया कि समूह में 53 अफगान (34 पुरुष, 09 महिलाएं और 10 बच्चे) और 25 भारतीय नागरिक (18 पुरुष, 5 महिलाएं और 12 बच्चे) शामिल हैं।

यह दल अफगानिस्तान से एयर लिफ्ट होकर 24 अगस्त को आईटीबीपी क्वारंटाइन फैसिलिटी में पहुंचा था। वर्तमान में अन्य 35 व्यक्ति (भारतीय-24, नेपाली- 11) आईटीबीपी केंद्र में क्वारंटाइन अवधि पूर्ण करने जा रहे हैं। इन लोगों को आठ सितंबर को अपेक्षित क्वारंटाइन अवधि पूरी करने के बाद विदाई दी जाएगी। इन मेहमानों के लिए सभी आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाई गईं। खाने-पीने के अलावा मनोरंजन, इनडोर गेम्स, वाई-फाई और कैंटीन आदि की सुविधा उपलब्ध कराई गई। यहां क्वारंटाइन अवधि के दौरान आईटीबीपी के स्ट्रेस काउंसलर द्वारा योग और तनाव परामर्श सत्र भी आयोजित किए जाते रहे।

छावला कैंप नई दिल्ली में आईटीबीपी क्वारंटाइन केंद्र को देश के पहले एक हजार बेड वाले क्वारंटाइन केंद्र को स्थापित करने का श्रेय दिया जाता है, जिसने दुनिया के विभिन्न हिस्सों विशेषकर वुहान, चीन और मिलान, इटली से भारतीयों समेत आठ देशों (बांग्लादेश, चीन, म्यांमार, मालदीव, अमेरिका, दक्षिण अफ्रीका, मेडागास्कर और अफगानिस्तान) के 42 नागरिकों सहित 1200 से अधिक लोगों को जनवरी से मई, 2020 तक इस केंद्र में क्वारंटाइन किया गया था।

हिन्दुस्थान