Wed. Aug 10th, 2022

247 बेटियां बिहार विशेष पुलिस की हिस्सा बनी, हवाई अड्डा व प्रमुख स्थलों की सुरक्षा में होगी तैनात


पटना/डेहरी आन सोन, 29 जुलाई (हि.स.)।बिहार विशेष सत्र सशस्त्र पुलिस के आईजी एमआर नायक ने कहा कि 247 बेटियां आज विशेष प्रशिक्षण प्राप्त कर तैनाती के लिए तैयार हैं। जिससे आज हमें गर्व महसूस हो रहा है।ये बेटियां राज्य के एयरपोर्ट समेत प्रमुख स्थलों पर सुरक्षा करेगी।

रोहतास जिले के डेहरी स्थित बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस दो के परेड मैदान में शुक्रवार को बिहार विशेष सत्र सशस्त्र पुलिस के आईजी एमआर नायक ने पारण परेड के निरीक्षण उपरांत नव प्रशिक्षित सिपाहियों को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार के पहले विशेष सशस्त्र पुलिस में कठिन प्रशिक्षण किया जो आज के परेड में झलक रहा है। आपको सीआईएसएफ और अन्य अर्धसैनिक बलों की तरह प्रशिक्षण दिया गया है । एक-दो माह का छत्तीसगढ़ में विशेष प्रशिक्षण उपरांत राज्य के प्रमुख स्थलों एयरपोर्ट पर आप सभी की तैनाती की जाएगी। उन्होंने कहा कि यह बटालियन बिहार के लिए विशेष बटालियन है और इन्हें विशेष ट्रेनिंग दी गई है। उन्होंने उनके परिजनों को भी नमन किया।

बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस की कमांडेंट सपना जी मेश्राम ने आगत अतिथियों का स्वागत किया ।उन्होंने सशस्त्र पुलिस के पदाधिकारी प्रशिक्षु व उनके परिजनों अनुदेशकों का भी अभिनंदन किया। उन्होंने कहा कि 216 दिन तक 247 महिला प्रशिक्षण सिपाहियों ने अपना प्रशिक्षण प्राप्त किया है। इन महिला प्रशिक्षुओं में दस पीजी व 146 स्नातक है ।इसमें से दो का चयन एएसआई के पद पर हुआ है ।उन्होंने उन्हें बधाई दी ।

उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान प्रशिक्षुओं को इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी ,कानून के साथ-साथ बाह्य विषयों में विपेन ट्रेनिंग, मॉडर्न आर्म्स ,फायरिंग फिजिकल एफिशिएंसी टेस्ट, सर्किट ट्रेंनिंग, फील्ड क्राफ्ट, मैप रीडिंग, एंटी राइट ड्रिल आदि का भी प्रशिक्षण दिया गया है। उन्होंने विश्वास जताया कि आप पूरी लगन मेहनत और सत्य निष्ठा से पुलिस विभाग में अपने कर्तव्य का निर्वहन करेंगी ।उन्होंने उनके परिजनों को भी बधाई दी ।जिन्होंने अपनी बेटियों को शिक्षा दी साथ यह मौका दिया कि वह अपने पैरों पर खड़ी हो सके ।

इसके पूर्व आईजी व कमांडेंट ने संयुक्त रुप से पारण परेड का निरीक्षण किया। मौके पर डीआईजी छत्रनील सिंह ,डीएम धर्मेंद्र कुमार, एसपी आशीष भारती ,एसडीएम समीर सौरभ, एसडीपीओ नवजीत सिम्मी व अन्य पुलिस अधिकारी व कर्मी व उनके परिजन मौजूद थे ।