Fri. May 27th, 2022

स्वाधीनता के मूल्य का बोध युवा पीढ़ी को बताना जरूरी: कृषि मंत्री


-संस्कार भारती की ओर से भू अलंकरण दिवस पर आयोजित हुआ कार्यक्रम

देहरादून, 23 अप्रैल (हि.स.)। स्वाधीनता के अमृत महोत्सव के अंतर्गत संस्कार भारती की जिला इकाई की ओर से ‘भू अलंकरण दिवस’ कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस मौके पर कृषि मंत्री ने कहा कि स्वाधीनता के मूल्य का बोध युवा पीढ़ी को राष्ट्र के प्रति और जवाबदेह बनाने के लिए जरूरी है।

शनिवार को कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने दीप प्रज्ज्वलित कर नाट्य प्रस्तुतियों, ‘रक्त अभिषेक’ ‘इंद्रधनुष’ सहित अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों का औपचारिक शुभारम्भ किया। इस दौरान कृषि मंत्री की ओर से प्रतिभागियों को प्रशस्ति पत्र भी वितरित किए।

कृषि मंत्री ने कहा कि हमारी पीढ़ी को भी स्वाधीनता पैदाइशी मिली हुई थी। स्वाधीनता का जो मूल्य हमारे पूर्वजों ने चुकाया उसे आने वाली पीढ़ियों को बताया जाना अनिवार्य है ताकि वह स्वाधीनता के मूल्य को समझें और मातृभूमि को उसका ऋण चुकाने के लिए राष्ट्र की प्रगति में योगदान करें।

मंत्री ने कहा कि इस बात को हमारे युगदृष्टा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से महसूस किया गया और पूरे देश को आजादी के 75 वें वर्ष को ‘स्वाधीनता के अमृत महोत्सव’ के तौर पर मनाने का कार्यक्रम दिया।

स्वाधीनता के अमृत महोत्सव कार्यक्रमों की श्रृंखला में यह कार्यक्रम, जो संस्कार भारती की जिला देहरादून की इकाई द्वारा आयोजित किया जा रहा है। अपने आप में एक पृथक एवं विविध विशेषता लिए हुए है। इस सुन्दर कार्यक्रम के आयोजन हेतु बहुत-बहुत बधाई, शुभकामनाएं साधुवाद।

इस अवसर पर संस्कार भारती की प्रांतीय अध्यक्ष एवं कैंट विधायक सविता कपूर,क्षेत्र प्रमुख देवेन्द्र रावत, पंकज अग्रवाल,अभिषेक पाठक, बलदेव परासर,डॉ.अजय वर्मा, पुष्पेन्द्र त्यागी,‘रक्त अभिषेक‘ के निर्देशक अनुराग वर्मा, नृत्य एवं संगीत कार्यक्रम की निर्देशिका प्रतिभा श्रीवास्तव और दर्जनों छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।