Wed. Jun 29th, 2022

सेना में भर्ती नियमावली के खिलाफ नवादा में बवाल और आगजनी


नवादा, 16 जून(हि. स.)। सेना में भर्ती के नए नियमावली के खिलाफ गुरुवार को नवादा में बवाल शुरू हो गया है। छात्र और नौजवान शहर के प्रजातंत्र चौक को जाम कर हंगामा कर रहे हैं। टायर जलाकर प्रदर्शन किया जा रहा है। छात्र टीओडी का विरोध कर रहे हैं। हजारों छात्र प्रदर्शन में शामिल हैं।

एसडीएम सदर उमेश कुमार भारती और एसडीपीओ सदर उपेंद्र प्रसाद छात्रों के गुस्से को शांत कराने का प्रयास कर रहे हैं। छात्रों को बताया जा रहा है कि आपकी मांगों को सरकार तक प्रशासन और मीडिया के माध्यम से पहुंचाय जाएगा। शांतिपूर्ण आंदोलन की अपील की जा रही है। यह भी बताया जा रहा है कि अन्य जिलों में छात्रों की प्रशासन से सद्भाव के माहौल में बात हुई है। यहां भी शांति बनाकर अपनी बातों को रखें। आपकी बातों को ऊपर तक पहुंचाया जाएगा।स्थित को नियंत्रित करने के लिए भारी मात्रा में पुलिस बलों को मंगाया गया है। वज्र वाहन को भी मंगाया गया है। प्रशासन की अपील का असर आंदोलनकारी छात्रों पर नहीं हो रहा है।

छात्रों का कहना है कि हमलोगों की बहाली रद कर दी गई है, जो सही नहीं है। 16 महीना से एग्जाम नहीं लिया गया है। हजारों छात्र सड़कों पर टायर जलाकर हंगामा कर रहे हैं। छात्रों का कहना है कि अगर सेना में इस कदर 4 वर्ष की ही नौकरी रहेगी तो फिर देश कैसे मजबूत हो सकेगा। छात्रों का यह भी आरोप है कि वे बरसों से परीक्षा की तैयारी कर रहे थे ।जब परीक्षा का समय आया तो, नियम में बदलाव कर उनके भविष्य को बर्बाद करने की कोशिश कर दी गई। छात्रों की उग्रता को अगर शांत नहीं की गई तो निश्चित तौर पर विस्फोटक रूप ले लेगी ।जिससे समाज को बहुत बड़ी क्षति होने की संभावना है। हालांकि अधिकारी छात्रों को समझाने बुझाने में जुटे हुए हैं।