Fri. May 27th, 2022

सूरत : कोर्ट ने प्रेमिका ग्रिश्मा की हत्या मामले में प्रेमी फेनिल को सुनाई मौत की सजा


– मनुस्मृति श्लोक सुनाने के साथ न्यायाधीश ने सुनाया फैसला

सूरत/अहमदाबाद, 5 मई (हि.स.)। स्थानीय सेशन कोर्ट ने सूरत के पसोदरा में ग्रिश्मा वेकारिया हत्याकांड में आरोपित फेनिल गोयानी को मौत की सजा सुनाई है। एकतरफा प्रेम में पागल फेनिल गोयानी ने 12 फरवरी को सूरत के कामरेज के पसोदरा में अपनी प्रेमिका ग्रिश्मा वेकारिया की बेरहमी से हत्या कर दी थी। इसके बाद उसने आत्महत्या की भी कोशिश की थी।

गुरुवार को सूरत की स्थानीय सेशन कोर्ट के न्यायाधीश विमल के. व्यास ने अपना फैसला सुनाया। न्यायाधीश व्यास ने मनुस्मृति के एक श्लोक से अपने फैसले की शुरुआत की। व्यास ने कहाकि, दंड देना आसान नहीं हैं लेकिन यह दुर्लभतम मामलों में से सबसे दुर्लभ है। कोर्ट ने ग्रिश्मा वेकारिया की आत्महत्या के मामले में आराेपित फेनिल गोयानी को मौत की सजा सुनाई। कोर्ट के फैसला सुनाने से पहले परिसर में पहुंचे फेनेल के चेहरे पर डर या अफसोस नहीं दिखा। ग्रिश्मा का परिवार और दोनों पक्षों के वकील के साथ कोर्ट में मौजूद थे।

कोर्ट के फैसले पर ग्रिश्मा के पिता ने कहा कि ग्रिशमा को न्याय मिला है। हमें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है। पुलिस की ओर से मदद करने वाले सभी नेताओं को धन्यवाद देता हूं। सरकारी वकील नयन सुखाड़वाला ने कहा कि अदालत ने फेनिल गोयानी को मौत की सजा सुनाई गई है। उसने अन्य दो लाेगों की हत्या का भी प्रयास किया था। उन्होंने बताया कि पीड़ित पक्ष को मुआवजा दिलाने की प्रक्रिया भी चल रही है।

सत्र कोर्ट में सुनवाई के दौरान ग्रिश्मा मर्डर केस में एक वीडियो सबसे महत्वपूर्ण सबूत साबित हुआ। ग्रिश्मा की हत्या के समय का यह वीडियो था। उस समय इस वीडियो को देखकर लोग कह रहे थे कि हत्या के समय कोई बचाव में क्यों नहीं आया।

उल्लेखनीय है कि ग्रिश्मा वेकारिया के साथ एकतरफा प्रेम में पागल फेनिल गोयानी ने 12 फरवरी को सूरत के कामरेज के पसोदरा में उसकी बेरहमी से हत्या कर दी थी। गोयानी ने ग्रिश्मा के चाचा और भाई ध्रुव पर भी जानलेवा हमला किया था। इसके बाद उसने अपने हाथ की नस काटकर और जहरीली दवा लेकर आत्महत्या करने की कोशिश की। फेनिल फिलहाल लाजपुर जेल में बंद है।