Wed. Sep 28th, 2022

सिंध में हिंदू लड़की से दुष्कर्म, अमेरिका में जवाब न दे सके पाकिस्तानी राजदूत


वाशिंगटन, 10 सितंबर (हि.स.)। पाकिस्तान के सिंध प्रांत में बाढ़ राहत के नाम पर एक हिंदू लड़की से दुष्कर्म के मामले में पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर असहज स्थितियों का सामना करना पड़ रहा है। पाकिस्तानी राजदूत को अमेरिका में भी इससे जुड़े सवालों का सामना करना पड़ा, जिसका वे जवाब नहीं दे पाए।

पाकिस्तान इस समय भीषण बाढ़ और इस बाढ़ के कारण उत्पन्न संकट से जूझ रहा है। बाढ़ के कारण उत्पन्न संकट से निपटने के लिए पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर राहत की उम्मीद लिए अभियान चला रहा है। ऐसे में पाकिस्तान में हिंदुओं के साथ हो रहे अत्याचार उसके अभियान के रास्ते में बाधा बन रहे हैं। बीते दिनों सिंध में भी बाढ़ का कहर देखा गया है। बाढ़ की शिकार एक हिंदू नाबालिग लड़की को मुफ्त राशन का लालच देकर बुलाया गया, फिर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया था। यह मसला भी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उछल रहा है।

अमेरिका में पाकिस्तान के राजदूत मसूद खान वाशिंगटन स्थित नेशनल प्रेस क्लब में पत्रकारों से बात कर रहे थे। इस दौरान वे पाकिस्तान में भीषण बारिश और उसके बाद बाढ़ से उत्पन्न स्थितियों का ब्यौरा दे रहे थे, ताकि पाकिस्तान को राहत कार्यों के लिए मदद मिल सके।

इसी दौरान वर्जीनिया से अमेरिकी कांग्रेस उम्मीदवार मंगा अनंतमुला ने पाकिस्तान में बाढ़ राहत के नाम पर अल्पसंख्यक महिलाओं से दुष्कर्म पर सवाल खड़े कर दिए। उन्होंने पाकिस्तान के सिंध प्रांत में नाबालिग हिंदू लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला उठाया और मसूद खान से पाकिस्तान में अल्पसंख्यक महिलाओं के जबरन धर्मांतरण, बलात्कार और अन्य अत्याचारों के मुद्दों पर जवाब मांगा। इस दौरान उन्होंने हाथ में एक पोस्टर भी लिया हुआ था।

पाकिस्तान के राजदूत मसूद खान इन सवालों का कोई जवाब नहीं दे सके और काफी असहज नजर आए।