Sun. May 22nd, 2022

सरकार के बन्दी आदेश के विरुद्ध निजी कोचिंग के शिक्षको ने किया भिक्षाटन


नवादा, 23 जनवरी (हि.स.)।प्राइवेट इंस्टिट्यूट वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर तले रविवार को नवादा जिला के समस्त शिक्षकों द्वारा नवादा की सड़कों पर भिक्षाटन का कार्यक्रम किया गया।

यह कार्यक्रम गुरुकुल पाठशाला न्यू एरिया, नवादा से आरंभ होकर गढ़ पर के रास्ते से विजय बाजार होते हुए प्रजातंत्र चौक पर समाप्त हुआ। बिहार सरकार की दोहरी नीति के तहत विगत कई महीनों से प्राइवेट शिक्षण संस्थानों को कोरोना की आड़ में बंद करा दिया गया है जिससे प्राइवेट शिक्षकों की आर्थिक स्थिति कमजोर होते चली गई है। जिसके विरोध में आज शिक्षकों ने भिक्षा मांगने का कार्य किया।

इस अवसर पर कोचिंग संघ के अध्यक्ष नितेश कपूर ने कहा कि सरकार न जाने किस दृष्टिकोण से एक और बच्चों का परीक्षा लेने के लिए तत्पर है और दूसरी और उन्हीं बच्चों को शिक्षा से दूर रखा जा रहा है। इस पेशे से जुड़े समस्त शिक्षकों के बीच बेरोजगारी की समस्या उत्पन्न हो गई वैसे हालात में हम चरणबद्ध तरीके से आंदोलन की ओर बढ़ने के लिए अग्रसर है।

संस्था के उपाध्यक्ष सह प्रवक्ता उत्पल भारद्वाज ने कहा कि एक तरफ जहां केंद्र सरकार कहती है की आर्थिक गतिविधियां चलती रहनी चाहिए दूसरी ओर बिहार सरकार परीक्षाओं के आयोजन की घोषणा करती हैं ऐसी परिस्थिति में प्राइवेट शिक्षण संस्थानों को किस रूप से बंद रखा जा रहा है अतः उन्होंने सरकार से मांग कि कोचिंग को उद्योग का दर्जा ,आर्थिक पैकेज ,बिजली बिल को माफ करना सरकार सुनिश्चित करें और जल्द से जल्द शिक्षण संस्थानों को खोलें। नहीं तो नवादा वह धरती होगी जहां से शांतिपूर्ण तथा संवैधानिक दायरे में चरणबद्ध आंदोलन की शुरुआत होगी।

इस बीच संस्था के सचिव के एन सिंह ने कहा कि बाजारों की अनियंत्रित भीड़ और परीक्षाओं का आयोजन निरपेक्ष रूप से कराया जा रहा है और शिक्षण संस्थानों को बंद रखने का कार्य किया जा रहा है , हम मांग करते हैं कि सरकार जल्द से जल्द गाइडलाइन के तहत हमारे संस्थानों को खोलने की अनुमति दें । उन्होंने कहा आने वाले दिनों में हम अपनी बातों को रखने के लिए आमरण अनशन का रूप दे सकते हैं । आज के इस कार्यक्रम में नवादा के जाने-माने शिक्षक दिलीप यादव , रमेश खन्ना, नरेश आजाद ,दीपांकर कुमार, रोहित कुमार, डीकेडी, रंजीत कुमार, प्रेम कुमार, रजनीश कुमार, विक्की गौरव, शिवम कुमार, श्याम सुंदर, श्याम नंदन, अमित कुमार, लालू कुमार, पंकज सहगल, मिथिलेश कुमार, सदानंद कुमार, सागर सुमन, विकास कुमार, विपिन कुमार, के कन्हैया, गौरव कुमार इत्यादि ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।