Mon. Aug 8th, 2022

सड़क निर्माण के लिए एक्शन मोड में काम कर रहे हैं केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह


बेगूसराय, 29 जुलाई (हि.स.)। केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह ने अपने संसदीय क्षेत्र बेगूसराय में सड़क और पुल-पुलिया का जाल बिछाने का अभियान तेज कर दिया है।

गिरिराज सिंह अपने संसदीय क्षेत्र के सभी गांव के सड़कों की मरम्मत करवा कर ग्रामीण आधारभूत संरचना मजबूत करने में लगातार जुटे हुए हैं। सिर्फ सड़क ही नहीं, अन्य विकासात्मक कार्यों पर भी नजर रख रहे हैं तथा इसके लिए ना केवल संबंधित विभागीय मंत्री को पत्र लिखकर अनुरोध करते हैं, बल्कि मिलकर भी अपनी बात रखते हैं।एक बार फिर गिरिराज सिंह ने बिहार के ग्रामीण कार्य मंत्री जयंत राज को पत्र लिखकर अपने संसदीय क्षेत्र के विभिन्न योजनाओं की ओर ध्यान दिलाया है।

गिरिराज सिंह ने कहा है कि संसदीय क्षेत्र भ्रमण के दौरान सड़कों की स्थिति को देखते हुए आमजन द्वारा लगातार अनुरोध किया जा रहा है। इसके मद्देनजर पत्र लिखा गया है, जिसमें बछवाड़ा प्रखंड के कैदराबाद पीडब्ल्यूडी रोड से पंचवटी चौक रानी एनएच-28 तक वाया आरवा, धरमपुर तथा एनएच-28 से भगवानपुर वाया मुशहरी, चुरामनचक, बसही एवं दादुपुर चैती दुर्गा मंदिर से रानी टोल दियारा तक सड़क निर्माण एवं बीच में एक पुलिया निर्माण का अनुरोध किया गया है।

विशनपुर पंचायत के फूलचंद चौक से बिचली दिरी होते हुए बुझावन चौक तक सड़क एवं आवश्यकतानुसार पुलिया निर्माण, चमथा पंचायत-दो में अस्पताल चौक से बालू पर बांध तक सड़क उंचाईकरण के साथ पीसीसी निर्माण, कादराबाद बलान नदी पर क्षतिग्रस्त पुल के समानांतर पुल निर्माण, रानी एनएच-28 से मजोश डीह तक टूटे हुए सड़क का पुनर्निर्माण, एनएच-28 फतेहा से चौर रसीदपुर को जोड़ने वाली सड़क का निर्माण तथा साठा रेलवे गुमटी से दलसिंहसराय जाने वाली सड़क का निर्माण कराने का अनुरोध किया गया है।

इसके अलावा बलिया प्रखंड के दियारा क्षेत्र के चेचियाही बांध के समीप पुल निर्माण करवाने का अनुरोध किया गया है। उक्त पुल के निर्माण से बाढ़ आपदा काल में बीमार, वृद्ध, गर्भवती महिलाएं एवं विभिन्न जरूरतमंद लोगों को सुविधा मिल सकेगी तथा लोगों की परेशानियों का समाधान हो सकेगा।

गिरिराज सिंह ने कहा कि देश के बढ़ते जीडीपी का आधार गांव होता है, गांव और ग्रामीणों का विकास उनकी प्राथमिकता है। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्रालय, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विकसित भारत लक्ष्य को पूरा करने के लिए लगातार कार्रवाई कर रही है। विभिन्न विकासात्मक और कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से ग्रामीण और गांव का विकास हो रहा है। पूरे देश में सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है, बिहार में बड़े पैमाने पर सड़क निर्माण कराए जा रहे हैं, तो बेगूसराय भी इससे अछूता नहीं रहेगा।

बेगूसराय के तमाम जर्जर सड़कों के निर्माण की दिशा में कार्य चल रहा है। 2019 से अब तक 214.95 करोड़ की लागत से 548.85 किलोमीटर लंबी 237 सड़क बनाई गई है। कोरोना के दौरान निर्माण कार्य में कुछ कमी आई, लेकिन अब फिर युद्ध स्तर पर कार्य चल रहा है। बिहार ग्रामीण सड़क अनुरक्षण नीति के तहत 2020-21 में तीन, 2021-22 में 14 तथा 2022-23 में 57 सड़कों की स्वीकृति दिया गया।