Wed. Feb 21st, 2024

शहीद शांति भूषण का पार्थिव शरीर पहुंचा रांची, राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि


रांची, 13 फरवरी (हि.स.)। छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए नक्सली हमले में शहीद सीआरपीएफ के असिस्टेंट कमांडेंट शांति भूषण तिर्की का पार्थिव शरीर रविवार को रांची पहुंचा। धुर्वा स्थित सीआरपीएफ के मुख्यालय में शहीद को भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई। राज्यपाल रमेश बैस और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पुष्पचक्र अर्पित कर शहीद को श्रद्धांजलि दी और उनकी वीरता को नमन किया।

राज्यपाल रमेश बैस ने कहा कि मातृभूमि की रक्षा के लिए सर्वस्व न्यौछावर करने वाले शहीद को कोटिश: नमन है। राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने शहीद के शोकाकुल परिजनों से मुलाकात कर उनका ढांढ़स बंधाया। उन्होंने कहा कि शहीद के परिजनों की सहायता के लिए सरकार हमेशा खड़ी रहेगी।

उग्रवादियों को मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं जवान : राज्यपाल

राज्यपाल ने कहा कि देश की खातिर हमारा एक और वीर जवान शहीद हो गया। सीआरपीएफ के असिस्टेंट कमांडेंट एसबी तिर्की की शहादत कभी व्यर्थ नहीं जाएगी। उग्रवादी जिस तरह कायराना हरकत कर रहे हैं, उसका उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। झारखंड और छत्तीसगढ़ में उग्रवादियों का सुरक्षा बल के जवान डटकर मुकाबला कर रहे हैं। ऐसे में कर्तव्यों के निर्वहन के दौरान कभी-कभी जवान शहीद हो जाते हैं। आगे ऐसी घटना नहीं हो, इसके लिए सभी ठोस कदम उठाए जाएंगे। राजपाल ने कहा कि शहीदों के परिजनों की सहायता के लिए कमेटी गठन पर सरकार द्वारा विचार किया जा रहा है। उन्होंने भगवान से दिवंगत आत्मा को शांति और अपने चरणों में जगह देने की कामना की।

घटना से मर्माहत हैं लेकिन मनोबल नहीं गिरेगा : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि झारखंड के एक और वीर सपूत ने देश की रक्षा के लिए अपने को बलिदान कर दिया। उनकी शहादत पर हम सभी को गर्व है। उन्होंने कहा कि उग्रवादियों के इस तरह की कायराना हरकत से हम मर्माहत जरूर हुए हैं। हमने एक बार फिर अपने परिवार के एक सदस्य को खोया है लेकिन इससे जवानों के मनोबल में कोई कमी नहीं आएगी। हमारे जवान और मजबूती तथा शक्ति के साथ ऐसे तत्वों को मुंहतोड़ जवाब देंगे। उग्रवादियों के नापाक इरादे को नेस्तनाबूद करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी पूरी संवेदना शहीद के परिजनों के साथ है। उनकी मदद के लिए सरकार हमेशा उनके साथ खड़ी है। मुख्यमंत्री ने ईश्वर से दिवंगत आत्मा को शांति और शोकाकुल परिजनों को दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करने की कामना ईश्वर की।

इस अवसर पर मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, एडीजी अभियान संजय आनंद लाटकर, सीआरपीएफ के झारखंड सेक्टर के आईजी राजीव कुमार समेत अन्य वरीय पदाधिकारी तथा शहीद की पत्नी पुष्पा मंजुला तिर्की एवं पिता स्टीफन तिर्की और अन्य परिजनों ने पार्थिव शरीर पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी।