Fri. May 27th, 2022

विजय दिवस पर बोले पुतिन, अपनी ही जमीन पर जंग लड़ मातृभूमि की रक्षा कर रहा रूस


मॉस्को, 9 मई (हि.स.)। यूक्रेन से लगातार चल रही जंग के बीच रूस के रूस अपना 77वां विजय दिवस मना रहा है। विजय दिवस पर आयोजित परेड को संबोधित करते हुए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने कहा कि यूक्रेन में रूस दरअसल अपनी ही जमीन पर युद्ध लड़कर मातृभूमि की रक्षा कर रहा है।

यूक्रेन हर वर्ष नौ मई को अपना विजय दिवस मनाता है। दूसरे विश्व युद्ध में जर्मनी की हार और सोवियत संघ की जीत के जश्न के रूप में यह आयोजन किया जाता है। सोमवार को 77वें विजय दिवस पर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने यूक्रेन में रूस की कार्रवाई की तुलना दूसरे विश्व युद्ध के दौरान हुई सोवियत संघ की कार्रवाई से की। उन्होंने कहा कि यूक्रेन में रूस की सैन्य कार्रवाई पश्चिमी देशों की नीतियों के खिलाफ सही समय पर दिया गया उचित जवाब है। उन्होंने दावा किया कि रूस इस सैन्य कार्रवाई के द्वारा यूक्रेन में अपनी मातृभूमि की रक्षा कर रहा है। उन्होंने कहा, यह हमारी जिम्मेदारी है कि हर वह चीज करें, जिससे दुनिया में दोबारा युद्ध न हो।

रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि नाटो हमारी सीमा पर रूस के लिए खतरा पैदा कर रहा है। यूक्रेन में रूसी सैनिक पूरी तरह से अस्वीकार्य खतरे का सामना कर रहे हैं। हम अपनी जमीन के लिए लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि यूक्रेन परमाणु हथियारों की ओर बढ़ रहा है। हमने प्रण किया है कि रूस हिटलर की तरह यूक्रेन को भी जंग में पराजित कर देगा। इस जंग में जीत हमारी ही होगी। इस दौरान यूक्रेन जंग में मारे गए रूसी सैनिकों को श्रद्धांजलि भी अर्पित की गई।