Tue. Sep 27th, 2022

वापस क्यों ली जब ठीक थी शराब नीति, देश के सामने जवाब दें केजरीवालः अनुराग ठाकुर


नई दिल्ली, 20 अगस्त (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता व केंद्रीय मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने दिल्ली सरकार पर पलटवार करते हुए शनिवार को कहा कि अगर शराब नीति ठीक थी तो केजरीवाल सरकार ने इसे वापस क्यों लिया। उन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चुनौती देते हुए कहा कि वे देश के सामने आएं और 24 घंटे के अंदर इसका जवाब दें।

अनुराग सिंह ठाकुर ने यहां भाजपा मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि शराब घोटाले के नंबर एक आरोपी दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया हैं, लेकिन इसके सरगना मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं। उन्होंने कहा कि आज की प्रेस कांफ्रेंस में साफ दिख रहा था कि घोटाले के बाद उनके चेहरे का रंग कैसे चला गया है। वह किसी सवाल का जवाब भी नहीं दे पाए।

ठाकुर ने कहा कि अगर शराब नीति ठीक थी तो आपने वह वापस क्यों ली? उन्होंने कहा कि ‘चोर की दाढ़ी में तिनका’ कहावत को चरितार्थ करते हुए मनीष सिसोदिया और अरविंद केजरीवाल को जब शराब नीति में भ्रष्टाचार दिखा तो उन्होंने शराब नीति वापस ले ली।

केंद्रीय मंत्री ने आगे केजरीवाल सरकार की नीति पर एक के बाद एक कई सवाल खड़े किए। उन्होंने केजरीवाल सरकार से पूछा कि, अगर मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों को रिटेल में अनुमति नहीं थी तो इस नीति के तहत क्यों अनुमति दी गई? कार्टेल कंपनियों को ठेका क्यों दिया गया? ब्लैक लिस्टेड कंपनियों को ठेका दिया गया या नहीं?

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी की यह सरकार रेवड़ी सरकार और बेवड़ी सरकार है।

अनुराग ने आबकारी मंत्री मनीष सिसोदिया पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उन्होंने तो अब अपने नाम की स्पेलिंग भी शायद बदल ली है। अब इनके नाम की स्पेलिंग M O N E Y SHH हो गई है।

अनुराग के साथ इस संवाददाता सम्मेलन में सांसद मनोज तिवारी और भाजपा दिल्ली प्रदेश के अध्यक्ष आदेश गुप्ता भी उपस्थित रहे।

उल्लेखनीय है कि सिसोदिया ने आज एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उनकी शराब नीति ठीक थी। उन्होंने आगे कहा कि अगले कुछ दिनों में उन्हें सीबीआई गिरफ्तार कर सकती है। सिसोदिया के वहां बीत कल सीबीआई ने छापेमारी की थी।