Tue. Sep 27th, 2022

लोकमंथन 2022 में हिस्सा लेंगे उप राष्ट्रपति


-पूर्वोत्तर की लोकगीत एवं नृत्य की होगी प्रस्तुति

गुवाहाटी, 22 सितम्बर (हि.स.)। गुवाहाटी के श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र में पूर्वोत्तर क्षेत्र के बौद्धिक मंच (आईएफएनई) की पहल और असम पर्यटन विकास निगम के सहयोग से आरंभ चार दिवसीय लोकमंथन कार्यक्रम के दूसरे दिन गुरुवार को सुबह 07:30 से 8:15 तक प्रतिभागियों और प्रतिनिधियों के पंजीकरण के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ होगा। वहीं 08:30 से 09:30 तक प्रदर्शनी उद्घाटन समारोह आयोजित किया जाएगा। सुबह 10 से 11:45 तक गयान बायन एवं बोडो समुदाय द्वारा दीप मंत्र का पाठ किया जाएगा।

दूसरे दिन के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ हिस्सा लेंगे। वहीं सम्मानित अतिथि के रूप में असम एवं नगालैंड के राज्यपाल प्रो. जगदीश मुखी, विशिष्ट अतिथि के रूप में मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्व सरमा एवं प्रज्ञा प्रवाह के राष्ट्रीय संयोजक जे. नंदकुमार शामिल होंगे। दोपहर 12 से दोपहर 01 बजे तक मृदुष्मिता दास द्वारा सत्रीया नृत्य एवं लोक परंपरा की प्रस्तुति डॉ. कपिल तिवारी द्वारा प्रस्तुत किया जाएगा।

शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। जिसमें शाम 6.30 से 7.50 बजे तक कर्नाटक से यक्षगान, शाम 7.15 से 7.30 बजे तक कर्नाटक का जोगती नृत्य प्रस्तुत किया जाएगा।

पूर्वोत्तर राज्यों की ओर से व्यक्ति लोक नृत्य प्रस्तुत किया जाएगा। जिसमें हिरक ज्योति सरमा द्वारा टोकरी गीत भक्ति गीत के साथ ही असम- बिहू नृत्य, बर्ड विसिखला, हमजार, दोमाही किकांग, गुमराग और झुमुर। त्रिपुरा- होजागिरी, सिक्किम- सिंघी छाम, मणिपुर-ढोल और ढोलाक चोलोम, मेघालय- वंगाला शामिल है। रात 8:30 से 10 बजे तक संगीतमय प्रस्तुति टेटसियो सिस्टर्स एवं दीक्षु शर्मा अपना प्रदर्शन करेंगे।