Fri. May 27th, 2022

लीडः जीएमसी चुनाव में भाजपा-अगप गठबंधन को कुल 58 वार्डों में जीत मिली


– कांग्रेस धराशायी, अजाप और आप को मिली एक-एक सीट

– भाजपा और अगप को सिर्फ एक-एक सीट पर हार मिली

गुवाहाटी, 24 अप्रैल (हि.स.)। 60 वार्डों वाले गुवाहाटी नगर निगम (जीएमसी) के चुनाव में भाजपा को अभूतपूर्व तथा ऐतिहासिक सफलता मिली है। भाजपा-अगप गठबंधन को कुल 58 वार्डों में जीत मिली है। कांग्रेस पूरी तरह से चुनाव में धराशायी हो गयी। असम जातीय परिषद (अजाप) को एक और आम आदमी पार्टी (आप) को भी एक-एक वार्ड में जीत मिली है।

भाजपा और अगप को सिर्फ एक-एक सीट पर हार मिली है। 60 वार्डों में भाजपा ने 7 सीटें सहयोगी पार्टी अगप को दी थीं जिसमें से अगप ने 6 सीटों पर जीत हासिल की है। भाजपा ने 53 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे जिसमें तीन उम्मीदवार पहले ही निर्विरोध चुनाव जीत चुके थे। भाजपा को 50 सीटों में से 49 सीटों पर जीत हासिल हुई है।

जीएमसी का चुनाव गत चार वर्षों से विभिन्न कारणों से टलता जा रहा था। चार साल की देरी से हुए चुनाव में राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस का जीएमसी से पूरी तरह सफाया हो गया। कांग्रेस के खाते में एक भी सीट नहीं आई है। जीएमसी चुनाव में जीत से भाजपा और सहयोगी पार्टी अगप में भारी उत्साह देखा जा रहा है।

जीएमसी के इस बार के चुनाव में कुल 797,807 मतदाताओं में 397128 पुरुष, 400654 महिलाएं और 26 थर्ड जेंडर के मतदाता थे। चुनाव में कुल 52.88 प्रतिशत मतदान हुआ था। जीएमसी चुनाव के लिए कुल 757 मतदान केंद्र बनाए गए थे। इस बार के चुनाव में मतदाताओं में कोई उत्साह नजर नहीं आया जिसके चलते मतदान का प्रतिशत कम रहा। करारी हार के बाद विपक्षी पार्टियों के पास कहने के लिए कुछ भी नहीं है।

अपने गठन के बाद अजाप ने विधानसभा चुनाव और नगर पालिका चुनावों में उतरी थी, लेकिन उसको कोई सफलता नहीं मिली थी। जीएमसी चुनाव में पहली बार अजाप को एक वार्ड में सफलता मिली है जबकि 38 वार्डों में अपने उम्मीदवार उतारे थे। आप को भी सिर्फ एक सीट पर सफलता मिली है। माना जा रहा था कि आप इस बार के चुनाव में कमाल करेगी, लेकिन ऐसा होता दिखाई नहीं दिया। कई वार्डों में आप दूसरे स्थान पर रही, लेकिन पहले और दूसरे स्थान के बीच मतों का अंतर काफी अधिक था।

गुवाहाटी के मेयर के नाम को लेकर असम प्रदेश भाजपा अध्यक्ष भवेश कलिता ने हिन्दुस्थान समाचार के साथ बाचतीच करते हुए कहा कि मेयर वही व्यक्ति होगा जो गुवाहाटी को अच्छी तरह से समझता हो, गुवाहाटी का हो और कर्मठ हो।