Wed. Feb 21st, 2024

लालू यादव से हर शनिवार तीन लोग कर सकते हैं मुलाकात


रांची, 19 फरवरी (हि.स.)। चारा घोटाला मामले में दोषी करार होने के बाद राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव रिम्स के पेइंग वार्ड में भर्ती हैं। इलाजरत लालू से मिलने के लिए जेल प्रशासन की ओर से शनिवार का दिन तय किया गया है।
जानकारी के अनुसार परिजन लालू से मिलना चाहते हैं तो बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार के अधीक्षक को आवेदन दे सकते हैं। जेल प्रशासन के अनुसार एक दिन में तीन लोगों को ही मुलाकात की अनुमति दी जाएगी। जेल अधीक्षक हामिद अख्तर ने शनिवार को बताया कि पिछली बार भी मुलाकात के लिए शनिवार का दिन तय किया गया था। इसी आधार पर इसबार भी यही दिन चुना गया है। अगर लालू प्रसाद की इच्छा होगी तो परिजन उनसे मिल सकते हैं।
हालांकि, अभी तक न तो लालू ने किसी से मिलने की इच्छा जताई और न ही उनके परिजनों ने मिलने का आवेदन दिया है। जेल अधीक्षक ने कहा कि विशेष परिस्थिति में अधिवक्ता और परिजन के लिए अलग से विचार किया जाएगा। जो भी निर्णय होगा जेल मैनुअल के अनुसार ही होगा। इसमें किसी प्रकार की कोताही नहीं बरती जाएगी।
जेल अधीक्षक के अनुसार लालू की अनुमति के बाद ही मुलाकात करने वालों को मिलने दिया जाएगा। अगर आवेदन आते हैं तो पहले इसकी जानकारी लालू को दी जाएगी। उनकी हरी झंडी मिलने के बाद ही यह तय होगा कि कौन मिलेगा और कौन नहीं।
उल्लेखनीय है कि लालू डाइबिटीज, ब्लड प्रेशर, ह्रदय रोग, किडनी की बीमारी, किडनी में स्टोन, तनाव, थैलीसीमिया, प्रोस्टेट का बढ़ना, यूरिक एसिड का बढ़ना,ब्रेन से संबंधित बीमारी, कमजोर इम्यूनिटी, दाहिने कंधे की हड्डी में दिक्कत, पैर की हड्डी की समस्या, आंख में दिक्कत की बीमारी से ग्रसित है।
बीते 15 फरवरी को सीबीआई की विशेष कोर्ट ने चारा घोटाले के डोरंडा कोषागार मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद लालू को रिम्स में भर्ती कराया गया है। जहां उनके स्वास्थ्य की जांच की गई थी। इसके बाद उनकी जांच के लिए बुधवार को कई सैंपल लिए गए थे। अब उनकी जांच रिपोर्ट आ गई। लालू की देखरेख के लिए सात सदस्यीय डॉक्टरों की टीम का गठन किया गया है, जो लालू पर निगरानी रख रही है।