Mon. May 23rd, 2022

रेतुआ नदी के कटाव से बचाव की गुहार


किशनगंज, 11 मई (हि.स.)। टेढ़ागाछ प्रखंड अंतर्गत हवाकोल गांव एवं उत्क्रमित मध्य विद्यालय के रेतुआ नदी की जद में आ जाने से स्थानीय ग्रामीण सकते में हैं। स्थानीय ग्रामीणों की बार-बार गुहार के बाद भी प्रशासनिक स्तर पर कोई सुनवाई नहीं होने से लोगों में गुस्सा भी है।

जदयू पंचायत अध्यक्ष कृष्ण प्रसाद मंडल ने कहा कि विगत दिनों जिला पदाधिकारी किशनगंज को आवेदन देने के बाद भी अब तक कटाव रोधी कार्य शुरू नहीं होने से ग्रामीणों में आक्रोश है। ग्रामीणों ने बताया कि अब बरसात शुरू होने वाली है। यदि समय रहते कटाव रोधी कार्य नहीं किए गए तो दर्जनों परिवार फिर से बेघर हो जाएंगे। सैकड़ों बीघे उपजाऊ जमीन नदी में विलीन हो जाएगी।

स्थानीय ग्रामीण कृष्ण प्रसाद मंडल, सुधीर गिरी, मनोज मंडल, महेंद्र प्रसाद मंडल, शंकर मंडल, वीरेंद्र मंडल, ब्रह्मदेव ऋषिदेव, कमल मंडल, जीन लाल मंडल, सुरेश ऋषिदेव, उपेंद्र मंडल, विजय मंडल, संतोष मंडल सहित अन्य ग्रामीणों ने जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए जल्द सुधि लेने की मांग की है।