Wed. Feb 21st, 2024

रुपेश के परिजनों से बिना मिले दिल्ली लौटे कपिल मिश्रा


रांची, 16 फरवरी (हि.स.)। रांची पहुंचे दिल्ली के पूर्व विधायक और भाजपा नेता कपिल मिश्रा को रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट से ही वापस लौटना पड़ा। जिला प्रशासन ने उन्हें सुबह एयरपोर्ट पर उतरने के साथ ही वहीं रोके रखा था। छह घंटे की जद्दोजहद के बाद हजारीबाग जाने की कोई संभावना नहीं देख कपिल मिश्रा दिल्ली के लिए वापस निकल गये।

एसएसपी एसके झा ने बताया कि कपिल मिश्रा को सिर्फ एयरपोर्ट पर रोका गया था। हिरासत या गिरफ्तार नहीं किया गया था। इससे पूर्व उनसे एयरपोर्ट पर रांची सांसद संजय सेठ ने भेंट की। उन्होंने कहा कि वे दोबारा रांची आएं। वह प्रशासन से अनुमति लेंगे फिर उनके साथ हजारीबाग के बरही जाएंगे।

मीडिया से बातचीत में संजय सेठ ने कहा कि बरही में मारा गया रूपेश पांडेय ने अपनी कुर्बानी दी। वह अपने परिवार का इकलौता चिराग था। ऐसे में शोक संतप्त परिवार से मिलने को जा रहे कपिल मिश्रा को प्रशासन के स्तर से रोका जाना शर्मनाक है। बाहर से आये मेहमान को एयरपोर्ट पर ही रोककर राज्य सरकार ने लोकतंत्र का गला घोंटने का काम किया है। जनता इसका जवाब देगी।

संजय सेठ ने बताया कि कपिल मिश्रा 18 लाख रुपये का चेक लेकर आये थे, जिसे वे रूपेश के परिजनों को देना चाहते थे लेकिन एयरपोर्ट पर ही रोके जाने के कारण वे हजारीबाग नहीं जा सके। उन्होंने कपिल मिश्रा से कहा है कि वे अगली बार फिर से रांची आएं। तब तक हिन्दू जागरण मंच और दूसरों के सहयोग से रूपेश के परिजनों के लिए और भी चंदा कलेक्ट किया जायेगा। इसके बाद वे कपिल मिश्रा के साथ हजारीबाग जाकर रूपेश के परिजनों को इसे सौंपेंगे। लगभग छह घंटे तक रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर रहने के बाद कपिल मिश्रा वापस दिल्ली लौट गये।

उल्लेखनीय है कि हजारीबाग जिले के बरही अनुमंडल क्षेत्र के दुलमाहा में मॉब लिंचिंग के शिकार युवक रुपेश पांडेय के परिजनों से मिलने पहुंचे भाजपा नेता कपिल मिश्रा को बुधवार को रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर रोका गया था।