Mon. May 23rd, 2022

राष्ट्रीय लोक अदालत में दो हजार मामलों का निपटारा


नवादा, 14 मई(हि. स.)। नवादा जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सौजन्य से शनिवार को सिविल कोर्ट परिसर में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया ।जिसमें 2000 से भी अधिक वादों का निपटारा किया गया। जिला एवं सत्र न्यायाधीश रामसेवक नारायण पांडे ने लोक अदालत का उद्घाटन किया ।उनके साथ विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव अनिल राम भी उपस्थित थे ।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री पांडे ने कहा कि समझौता से ही समाज में अमन-चैन काम हो सकता है ।लोक अदालत विवादों के निपटारे का सबसे सस्ता व बेहतर पटल है। जहां बिना खर्च के ही पक्षकारों को न्याय मिल जाती है। उन्होंने यह भी कहा कि समझौता का रास्ता जीवन में शांति का सबसे बेहतर रास्ता है ।जिस कारण लोक अदालत समाज में शांति बहाली का सबसे बड़ा माध्यम माना जा सकता है।

विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव अनिल राम ने बताया कि मामलों के निपटारे के लिए 16 बेंचों का गठन किया गया था ।जहां अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश व दंडाधिकारी की अध्यक्षता में गठित की गई थी। जहां पक्षकारों ने पहुंचकर समझौता के तहत वादों का निपटारा किया ।बिजली ,दावा निपटारा, जमीनों के छोटे-छोटे विवाद ,फौजदारी और दीवानी से संबंधित उपयुक्त वादों का निपटारा समझौते के आधार पर लोक अदालत में किया गया ।सुबह से ही भारी संख्या में पक्षकारों ने जुटकर समझौता पत्र दाखिल किए ।जिसके बाद पैसों को शिक्षा दिया गया है।

लोक अदालत की सफलता के लिए अधिवक्ताओं को भी समझौते बेंच में शामिल किए गए थे। जिन्होंने दोनों पक्षकारों को समझा-बुझाकर मामलों के निपटारे में अपनी बेहतर भूमिका अदा की। जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने मामले निपटारे में सहयोग करने वाले अधिवक्ताओं, पक्षकारों सभी को बधाई देते हुए कहा कि आप लोगों के मेहनत का फल ही लोक अदालत की सफलता है।