Thu. Feb 22nd, 2024

रायबरेली में बरसे योगी, बोले ‘आतंकी का अब्बाजान सपा का प्रचारक और अखिलेश हैं मौन’


– भाजपा के कथनी और करनी में नहीं है फ़र्क
– गरीबों का धन हड़प कर इत्र वाले मित्र के यहां पहुंचा
– दिल्ली वाले भाई बहन नहीं कर सके रायबरेली का विकास
रायबरेली, 21 फ़रवरी(हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को रायबरेली में थे। सरेनी विधानसभा के लालगंज और हरचंदपुर के सताव में आयोजित जनसभाओं में उन्होंने सरकार के विकास कार्यों के साथ-साथ विरोधियों को भी निशाने पर लिया। सपा पर जुबानी हमला करते हुए उन्होंने कहा कि आतंकी का ‘अब्बाजान’ सपा का प्रचारक हैं और अखिलेश अभी भी मौन हैं। चार दिन हो गए और उनके पास कोई जबाब नहीं है।
अहमदाबाद बम ब्लास्ट पर आये अदालती फैसले पर उन्होंने कहा कि सजा पाए आठ आंतकियों का सम्बन्ध उत्तर प्रदेश से है और इनके लोग सपा के साथ प्रचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा कि सपा राजनीति के लिए देश की सुरक्षा और सम्मान से भी खिलवाड़ करने का दुस्साहिक कृत्य कर रही है।
उन्होंने कहा कि भाजपा जो कहती है करती है। रामन्दिर का वादा किया गया था जो भव्य और दिव्य रूप से बन रहा है। उन्होंने लोगों से पूछा कि क्या सैफई के चाचा भतीजे, दिल्ली के भाई बहन और बहन जी कभी कर पाती। 2017 के पहले दंगे होते थे, सपा के समय 700 से अधिक बसपा के समय 364 दंगे हुए लेकिन 2017 के बाद दंगा करने वालो की सात पीढ़ियों की हिम्मत नहीं है। डबल इंजन की सरकार का ध्येय प्रदेश की सुरक्षा, स्वाभिमान और विकास है। और कहा कि बिजली जाति और मज़हब देखकर दी जाती थी,होली दीवाली पर नही ईद और मुहर्रम पर बिजली मिलती।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जैसे ही भाजपा की सरकार बनी 86 लाख किसानों के 36 हजार करोड़ कर्जे तुरंत माफ किये गए, रायबरेली में ही 81,700 किसानों को इसका लाभ मिला।
उन्होंने कहा कि कोरोना काल और उसके बाद फ्री में वैक्सीन और उपचार हो रहा है और आज वैक्सीन कोरोना के ख़िलाफ़ लड़ाई का प्रतीक बन गया है। जबकि कुछ लोग इसका दुष्प्रचार करते थे और कहते थे कि यह मोदी और बीजेपी की वैक्सीन है। यही मोदी और बीजेपी की वैक्सीन ने लोगों की जान बचाई है और तीसरी लहर कब निकल गई पता नहीं चला।
योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अब इन्हें इसके लिए वोट की चोट करने की जरूरत है।उन्होंने कहा कि पहले राशन,आवास, बिजली का पैसा हड़प लिया जाता था और यह उनके इत्र वाले मित्र के घर पहुंच जाता था। उन्होंने गरीबों के मकान, अस्पताल, मेडिकल कॉलेज के नाम पर पैसा हड़पा लेकिन किया कुकग नहीं। आज इसी पैसे से एम्स, आईटीआई, पॉलीटेक्निक खुल रहे हैं।
कांग्रेस को घेरते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि रायबरेली वीआईपी सीट मानी जाती थी, लेकिन दिल्ली वाले भाई-बहन गरीबों को मकान तक नहीं दे पाए। जबकि आज गरीबों को पैसा भी दे रहे हैं,आवास और बिजली भी। युवाओं को स्मार्टफोन और टैबलेट दिया जा रहा है जो चुनाव बाद दो करोड़ लोगों को मिलेगा।
उन्होंने कहा कि सुरक्षा,स्वाभिमान व स्वालम्बन के लिए बीजेपी जरूरी है। मुख्यमंत्री ने रायबरेली की सभी सीटों से भाजपा और गठबंधन के उम्मीदवारों को जिताने की अपील की। इस मौके पर उमड़ी भारी भीड़ लोगों के उत्साह को व्यक्त कर रही थी। मंच पर कई वरिष्ठ भाजपा नेता और संत उपस्थित रहे। कांग्रेस नेता रत्ना पांडे भी इस मौके पर भाजपा में शामिल हुईं।