Fri. May 27th, 2022

राज्यपाल की मौजूदगी में मधुमक्खी के बक्सों से 50 किलो निकला शहद


-शहद उत्पादन को अधिक से अधिक प्रोत्साहित किया जाए: राज्यपाल

देहरादून, 23 अप्रैल (हि.स.)। राज्यपाल की मौजूदगी में शनिवार को राजभवन परिसर में लगे मधुमक्खी के बक्सों से 50 किलोग्राम शहद निकाला गया। इससे पूर्व विगत 45 दिनों में राजभवन में रखे मधुमक्खी के इन बक्सों से कुल 101 किलो शहद निकाला गया है। राजभवन परिसर में मेलीफेरा प्रजाति की मधुमक्खियां रखी गई हैं।

इस अवसर पर राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (सेनि) ने हनी बी प्रोसेसिंग (शहद निकालने की प्रक्रिया) का अवलोकन किया। उन्होंने उद्यान विभाग के अधिकारियों की सराहना करते हुए कहा कि शहद उत्पादन को अधिक से अधिक प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।

राज्यपाल ने कहा कि मधुमक्खियां से जहां अनाज, फल एवं सब्जियों में पॉलिनेशन की प्रक्रिया होती है वहीं इससे हाई वैल्यू प्रोडक्ट निकलते हैं। जिनमें बी वैक्स, बी वैनम, रॉयल जैली, कोम्ब हनी आदि शामिल हैं। मौन पालन कम कृषि भूमि और छोटी जोत वाले पर्वतीय राज्य उत्तराखंड में समृद्ध आर्थिकी का माध्यम बन सकता है।

फूलों की घाटी में भी लगाए मधुमक्खी के बक्से-

राज्यपाल ने विभाग के अधिकारियों से अपेक्षा की कि वे आमजन मानस विशेषकर युवाओं को मौन पालन हेतु प्रोत्साहित करें। विश्व प्रसिद्ध फूलों की घाटी में भी मधुमक्खी के बक्से लगाए गए हैं। इस मौके पर नेशनल बी बोर्ड के सदस्य अजय सैनी, उद्यान अधिकारी दीपक पुरोहित उपस्थित रहे।