Tue. Jun 28th, 2022

राजस्थान में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की धूम


जयपुर, 21 जून (हि.स.)। आठवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर मंगलवार सुबह समूचे राजस्थान में लोगों ने बड़ी संख्या में योग कर निरोग रहने का संकल्प लिया। राज्यपाल कलराज मिश्र ने राजभवन, केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत ने जैसलमेर, केन्द्रीय राज्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने जयपुर और केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी कुम्भलगढ़ में आयोजित योग समारोह में योगाभ्यास किया। भारत-पाकस्तान सीमा पर तैनात जवानों ने भी योगाभ्यास किया।

जयपुर, जोधपुर, अजमेर, कोटा, उदयपुर, बीकानेर और भरतपुर समेत सभी जिला मुख्यालयों पर योग दिवस के कार्यक्रम आयोजित हुए। राज्यपाल कलराज मिश्र की अगुआई में राजभवन में अंतरराष्ट्रीय योग समारोह का आयोजन किया गया। राज्यपाल के साथ राजभवन के अधिकारियों और कर्मचारियों ने भी योग किया।

केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने जैसलमेर में सम के मखमली और लहरदार धोरों पर योग किया। इस कार्यक्रम में सीमा सुरक्षा बल के प्रहरी, वायु वीर, जवान और बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिकों ने योगाभ्यास कर फिट रहने का संदेश दिया।

केन्द्रीय राज्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल जयपुर में जंतर-मंतर पर आयोजित योगोत्सव समारोह में शामिल हुए और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के उद्बोधन को सुना। इस अवसर पर मेघवाल ने योग की महत्ता बताते हुए कहा कि योग से दिमाग एक्टिव रहता है, मानसिक ऊर्जा बढ़ती है। रोज सुबह योग करने से मन भी खुश रहता है। मन को शांति मिलती है।

केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने राजसमंद जिले में कुम्भलगढ़ हिल फोर्ट्स में योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया। उन्होंने ट्वीट संदेश में कहा कि भारतीय संस्कृति की अमूल्य और विलक्षण धरोहर एवं मानव के उत्तम स्वास्थ्य का आधार योग है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों की बदौलत योग के महत्व को वैश्विक पटल पर स्वीकार किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि केन्द्र सरकार ने आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर देशभर में 75 ऐतिहासिक और सांस्कृतिक स्थानों को योग दिवस के लिए चुना है। चयनित स्थानों पर 75 केन्द्रीय मंत्रियों ने योग समारोह में हिस्सा लिया।