Wed. Feb 21st, 2024

युवा ऊर्जा का उपयोग सकारात्मक दिशा में हो : डॉ. कल्ला


बीकानेर, 17 फ़रवरी (हि.स.)। श्री छह न्याति ब्राह्मण महासंघ के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों का शपथ ग्रहण समारोह गुरुवार को टाउन हॉल में आयोजित हुआ।

शिक्षा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला ने नवनिर्वाचित पदाधिकारियों तथा प्रकोष्ठ प्रभारियों को शपथ दिलाई। उन्होंने कहा कि नई कार्यकारिणी के सदस्य युवा पीढ़ी को आगे लाने का प्रयत्न करें। युवाओं को शिक्षा और खेल सहित विभिन्न क्षेत्रों में अधिक से अधिक अवसर उपलब्ध करवाए जाएं, जिससे उनकी ऊर्जा का उपयोग सकारात्मक दिशा में हो सके। उन्होंने कहा कि ब्राह्मण ’सर्वजन हिताय-सर्वजन सुखाय’ की परम्परा का निर्वहन करने वाले होते हैं। इन संस्कारों को आगे बढाने में भी नई कार्यकारिणी अपनी भागीदारी निभाए। उन्होंने सामाजिक कार्यों में अनावश्यक खर्च पर अंकुश लगाने का आह्वान किया तथा कहा कि कार्यकारिणी इसकी मुहिम चलाए, जिससे दूसरों को भी प्रेरणा मिले। उन्होंने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना सहित राज्य सरकार की अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने का आह्वान भी किया। साथ ही विश्वास दिलाया कि वे छः न्याति ब्राह्मण समाज के साथ खड़े हैं तथा समाज के भवन निर्माण सहित सभी आवश्यकताओं की पूर्ति में उनका सकारात्मक सहयोग रहेगा। शिवबाड़ी मठ के अधिष्ठाता स्वामी विमर्शानन्द महाराज ने कहा कि नई कार्यकारिणी परहित की भावना के साथ कार्य करते हुए प्रत्येक जरूरतमंद व्यक्ति की सेवा को तत्पर रहे।

इससे पहले महासंघ के निवर्तमान अध्यक्ष मोहनलाल जाजड़ा ने अपने कार्यकाल की उपलब्धियों तथा नए अध्यक्ष भंवरलाल व्यास ने भावी कार्य योजना के बारे में बताया। इस दौरान बीकानेर पंचायत समिति के प्रधान लालचन्द आसोपा, युवा प्रकोष्ठ प्रभारी गजानन्द शर्मा सहित अन्य प्रबुद्धजनों ने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम में कामेश्वर प्रसाद सहल, खेताराम तावणिया, श्रीधर शर्मा सहित अनेक लोग मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन पाराशर नारायण शर्मा ने किया।

इन्होंने ली शपथ

कार्यक्रम के दौरान मुख्य कार्यकारिणी के 44 पदाधिकारियों के साथ महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष चारु शर्मा, युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष गजानंद शर्मा, विधि प्रकोष्ठ अध्यक्ष मनोज सुरोलिया, नगर अध्यक्ष अरविंद जाजडा, संस्कार एवं ज्योतिष प्रकोष्ठ अध्यक्ष राकेश ओझा, लोकसेवक प्रकोष्ठ अध्यक्ष इंजी. अरुण पाण्डे और तहसील अध्यक्ष रमेश पारीक ने अपनी अपनी कार्यकारिणी के साथ शपथ ग्रहण की।