Tue. Sep 27th, 2022

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया पल्स पोलिया अभियान का शुभारम्भ


लखनऊ, 18 सितम्बर (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को पांच कालिदास मार्ग स्थित मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित कार्यक्रम में पल्स पोलियो अभियान का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक, स्वास्थ्य राज्यमंत्री मयंकेश्वर शरण सिंह, मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र और प्रमुख सचिव स्वास्थ्य पार्थ सारथी सेन शर्मा उपस्थित रहे।

इस अवसर पर बोलते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पोलियो एक संक्रामक बीमारी है। यह बीमारी आसानी से एक दूसरे देश से दूसरे देश में स्थानान्तरित हो सकती है। पोलियो की दो बूंद पिलाने से बच्चे को जीवन पर्यन्त स्वस्थ रखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि जब सामूहिक रूप से प्रयास होते हैं तो इसका हम समाधान निकाल लेते हैं। इसके लिए पहले भी गांव-गांव में बूथ लगाने और उससे पहले जागरूकता के वृहद कार्यक्रम में यूनिसेफ जैसे विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं ने कार्य किया है।

मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में 77 हजार बूथों पर पहले दिन पोलियो ड्राप पिलाई जायेगी।द्वितीय चरण में 33 हजार मोबाइल वैन घर-घर जाकर पोलियो ड्राप पिलाने का काम करेंगी। इस अभियान से धर्म गुरुओं को जोड़ना होगा।

योगी ने कहा कि प्रदेश में शिशु मृत्यु दर और मातृ मृत्यु दर में कमी आई है। हमने मलेरिया व कालाजार जैसे तमाम बीमारियों को रोकने की दिशा में कदम बढ़ाया है। इस बार हमने सितम्बर माह में जानकारी ली तो पता चला कि पूरे सीजन में केवल 40 मरीज जापानीज इंसेफ्लाइटिस के मिले। हम मौजूदा संसाधन और विभागीय समन्वय के बल पर इस बीमारी को रोकने में सफल हुए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश में संचारी रोग के नियंत्रण के लिए समय-समय पर अनेक प्रकार से सहयोग किया। बीमारी में उपचार से महत्वपूर्ण बचाव होता है। समय पर अगर उचित कदम उठा लिया तो एक बड़ी जनहानि से बचा जा सकता है।

योगी ने बताया कि भारत का कोरोना प्रबंधन का माडल दुनिया भर में सराहा गया। उत्तर प्रदेश के अन्दर हमने तीन करोड 77 लाख प्रीकाशन डोज देने में सफल रहे हैं। मुख्यमंत्री ने अपील की कि जितना भी टीकाकरण अभियान है, वह सब टीके बच्चे को लगवाना चाहिए।

इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि हमारे पड़ोसी देशों में अभी भी पोलियो के केस हैं। इसलिए सतर्कता के लिए अपने प्रदेश में यह अभियान चलाया जा रहा है। प्रदेश में दो करोड़ 28 लाख बच्चों को पोलियो की डोज दी जायेगी। ब्रजेश पाठक ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग सतत रूप से विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। उप मुख्यमंत्री ने रोटरी क्लब व अन्य स्वयंसेवी संस्थाओं से इस अभियान में सहयोग की अपील की है।