Tue. Sep 27th, 2022

मुंबई पर आतंकी हमले की धमकी के बाद अज्ञात आरोपित के विरुद्ध मामला दर्ज


सभी जांच एजेंसियां अलर्ट मोड पर :देवेंद्र फडणवीस

मुंबई, 20 अगस्त (हि.स.)। मुंबई पर आतंकी हमले का धमकी भरा मैसेज मिलने के बाद वर्ली पुलिस स्टेशन में अज्ञात आरोपित के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है। मुंबई पुलिस आयुक्त विवेक फलसणकर ने बताया कि इस मामले की छानबीन मुंबई पुलिस और क्राइम ब्रांच पुलिस कर रही है। मैसेज की जानकारी एंटी टेररिस्ट स्क्वायड को शेयर की गई है।

मुंबई पुलिस आयुक्त ने शनिवार को पत्रकारों को बताया कि मुंबई के ट्रैफिक कंट्रोल रूम में मुंबई में 26/11 जैसा आतंकी हमला किए जाने संबंधी मैसेज मिला था। इस मैसेज के बाद पुलिस और क्राइम ब्रांच मिलकर छानबीन कर रही है। यह मामला अज्ञात आरोपित के विरुद्ध वर्ली पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया है।

उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि इस संदेश की जांच शुरू कर दी गई है। मुंबई पर एक बार फिर 26/11 जैसा भयानक हमला करने की धमकी पाकिस्तान ने दी है। इस तरह के धमकी भरे मैसेज कंट्रोल रूम के नंबर पर मिले हैं। उसके बाद इस संदेश को संज्ञान में लिया गया है और मुंबई पुलिस हाई अलर्ट पर है। उन्होंने कहा, यह मामला बहुत गंभीर है और मुंबई में 26/11 को दोहराने की धमकी देने वाले नंबर की जांच चल रही है। जांच जारी है कि ये संदेश किसने और कैसे भेजे। इसके बाद सभी जांच एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है और मुंबई के पुलिस आयुक्त अधिक जानकारी देंगे।

सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान से भेजे गए मुंबई पर आतंकी हमले की धमकी वाले इस मैसेज में कहा गया है कि उनके छह लोग भारत में ही हैं। इन सभी छह लोगों के मोबाइल क्रमांक भी मैसेज में भेजे गए थे। इन नंबरों में एक नंबर उत्तर प्रदेश एटीएस के एक अधिकारी का है। महाराष्ट्र पुलिस ने इस मामले में यूपी एटीएस से भी बात की है।

उल्लेखनीय है कि मुंबई में 26 नवंबर, 2008 को पाकिस्तान के 10 आतंकवादियों ने आतंकी हमला किया था। इस हमले में पुलिस ने जान की बाजी लगाकर अजमल कसाब को जिंदा पकड़ लिया था। शेष 9 आतंकी पुलिस की गोली का निशाना बन गए थे। अजमल कसाब को भी ट्रायल के बाद फांसी दे दी गई थी। इस हमले में 174 निर्दोष लोगों की मौत हुई थी और 300 से अधिक घायल हुए थे। इस हमले में 20 वरिष्ठ पुलिस अधिकारी और पुलिसकर्मी भी शहीद हुए थे।