Wed. Aug 10th, 2022

मारुति सुजुकी को पहली तिमाही में 1036 करोड़ रुपये का मुनाफा


-वित्त वर्ष 2022-23 की जून तिमाही में कंपनी का मुनाफा दोगुना से ज्यादा

नई दिल्ली, 27 जुलाई (हि.स.)। देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारूति सुजुकी इंडिया लिमिटेड (एमएसआईएल) ने पहली तिमाही (अप्रैल-जून) के नतीजे का ऐलान कर दिया है। वित्त वर्ष 2022-23 की जून तिमाही में एमएसआईएल का मुनाफा दोगुना से ज्यदा उछलकर 1,036 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। इससे पिछले वित्त वर्ष 2021-22 की समान तिमाही में कंपनी को 475 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।

एमएसआईएल ने बुधवार को शेयर बाजार को सूचित किया कि चालू वित्त वर्ष की जून तिमाही में कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ यानी मुनाफा 130 फीसदी बढ़कर 1,036 करोड़ रुपये रहा है, जबकि इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी को 475 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। कंपनी के बताया कि 30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही में उसकी कुल बिक्री बढ़कर 26,512 करोड़ रुपये हो गई, जो बीते वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 17,776 करोड़ रुपये रही थी।

इस दौरान कंपनी के राजस्व में 51 फीसदी उछलकर 26,512 करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 17,776 करोड़ रुपये रहा था। इसी तरह सालाना आधार पर कंपनी का सेल्स वॉल्यूम 3,53,614 इकाई से बढ़कर 4,67,931 इकाई रहा है। जून तिमाही में कंपनी का ब्याज और करों से पहले की कमाई (ईबीआईटी) मार्जिन 4.50 फीसदी से बढ़कर 5 फीसदी हो गया है।

एक्सपर्ट के मुताबिक पहली तिमाही में मारूति सुजुकी के क्षमता उपयोग में सुधार की वजह से सेल्स वॉल्यूम बेहतर रहा। इस दौरान तिमाही में मारुति सुजुकी की कीमतें भी बढ़ी हैं, जिसका फायदा कंपनी को मिला है। कंपनी ने अपने खर्चों पर भी लगाम लगाई थी, जिसका फायदा भी जून तिमाही में देखने को मिला है। कंपनी को सालाना आधार पर कोरोना के चलते लो बेस होने का फायदा मिला है। शेयर बाजार में मारुति के शेयरों में आज 2 फीसदी से ज्यादा की तेजी देखने को मिली, जिससे कंपनी का शेयर 8,707 रुपये तक मजबूत हुआ।