Sun. May 22nd, 2022

मदर्स डे स्पेशल: सशक्त माँ की कहानी दिखाती हैं बॉलीवुड की ये फिल्में


इस साल 8 मई को मदर्स डे मनाया जा रहा है। इस दिन हम अपनी माँ को स्पेशल महसूस कराने, उनके मातृत्व और प्यार को सम्मानित करने के उद्देश्य से मदर्स डे के रूप में मनाते हैं। माँ का स्थान हर किसी के जीवन में बहुत खास होता है। माँ सिर्फ एक शब्द नहीं एक ऐसा एहसास है, जो अपने बच्चे के हर जख्म को अपने प्यार से भर देती है। इस मदर्स डे पर हम अपने पाठकों को बता रहे हैं बॉलीवुड की कुछ ऐसी फिल्मों के बारे में… जिनमें माँ के सशक्त रूप को पर्दे पर बखूबी दिखाया गया है।

मदर इंडिया (1957)

महबूब खान के निर्देशन में बनी साल 1957 में आई फिल्म ‘मदर इंडिया’ एक ऐसी फिल्म है, जिसे कभी नहीं भुलाया जा सकता है। इस फिल्म में नरगिस को भले ही गरीबी से मजबूर एक लाचार मां की भूमिका में दिखाया गया था, लेकिन वह अपने बच्चों के लिए दुनिया से लड़ती है। इस फिल्म में एक माँ के अपने बेटों के लिए समर्पण ने दर्शकों के दिलों को छू लिया था और ये फिल्म उस समय में सुपरहिट रही थी।

जज्बा (2015)

ऐश्वर्या राय बच्चन की फिल्म ‘जज्बा’ में एक माँ की ममता के साथ ही उसका गुस्सा, बदला और शक्ति की कहानी भी दिखाई गई है। फिल्म में ऐश्वर्या एक ऐसी माँ के किरदार में हैं जो अपने बच्चे पर जरा सी आंच भी आने पर पूरी शक्ति के साथ किसी भी मुसीबत का सामना करने को तैयार हो जाती हैं। इसमें एक कामकाजी मां को दिखाया गया है, जो ऑफिस के साथ अपना घर भी संभालती हैं और अपनी बेटी की रक्षा के लिए कुछ भी करने को तैयार है।

मॉम (2017)

साल 2017 म रिलीज हुई श्रीदेवी की मुख्य भूमिका वाली फिल्म ‘मॉम’ सौतेली मां के लिए समाज में व्याप्त मिथ्याओं को तोड़ती के साथ-साथ एक सशक्त मां की कहानी भी दिखाती है। फिल्म में आर्या नाम की लड़की की कहानी दिखाई गई है, जिसमें उसके स्कूल के ही कुछ लड़के उसके साथ गैंगरेप करते हैं। फिर उसकी सौतेली मां (श्रीदेवी) उनको सबक सिखाने की ठान लेती है और बेटी के साथ हुए अन्याय का बदला लेती है।

मातृ (2017)

रवीना टंडन की फिल्म ‘मातृ’ फिल्म में एक ऐसी माँ की कहानी दिखाई गई है, जिसकी बेटी का रेप हो जाता है और बाद में उसकी मौत भी हो जाती है, लेकिन इन सबके बावजूद एक माँ टूटती नहीं है, बल्कि अपनी बेटी को न्याय दिलाने के लिए मजबूत के साथ सिस्टम से लड़ती है और अपनी बेटी के गुनहगारों को सजा दिलवाती है। फिल्म में रवीना टंडन ने एक सशक्त और शक्तिशाली मां का किरदार अदा किया था।

इन सब के अलावा निल बट्टे सन्नाटा, क्या कहना, सीक्रेट सुपरस्टार, आदि ऐसी फ़िल्में हैं, जो एक माँ का उसके बच्चों के साथ एक खास बांड को दर्शाती हैं।