Wed. Feb 21st, 2024

भारत-वेस्टइंडीज दूसरा टी-20 : भुवनेश्वर कुमार ने 19वें ओवर को लेकर बताया अपना प्लान


कोलकाता, 19 फरवरी (हि.स.)। वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच में बेहतरीन 19वां ओवर डाल कर भारत की जीत सुनिश्चित करने वाले तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने बताया है कि उस समय उनके दिमाग में क्या चल रहा था। उन्होंने मैच के बाद बताया कि ओवर को लेकर क्या प्लान था।

मैच के बाद भारतीय टीम के बॉलिंग कोच पारस मुंब्रा से बातचीत में भुवनेश्वर कुमार ने कहा कि निश्चित रूप से दबाव था। जब मैंने देखा कि दो ओवरों में 28-29 रन चाहिए तो मेरे दिमाग में था कि अगर मैंने 9-10 रन भी दिए तो अच्छा ओवर होगा। ओवर काफी अच्छा गया, केवल चार रन गए। जो भी मैंने ट्राई किया यॉर्कर या स्लोवर बाउंसर सब अच्छे डले।

बॉलिंग कोच ने पूछा कि कुछ स्पेशल प्लान था। इस पर भुवनेश्वर ने कहा कि मेरा एक प्लान था। मैं पॉवेल (रोवमन पॉवेल) को स्लो बॉल नहीं डालने वाला था, क्योंकि जिस तरह से उसे पहले ओवर में चाहर (दीपक चाहर) ने डाली और ग्रिप नहीं किया। तो मेरे दिमाग में था कि उसे स्लोवर नहीं डालूंगा। यॉर्कर से खुद को बैक करूंगा।

उल्लेखनीय है कि कोलकाता के ईडन गार्डन्स में खेले गए दूसरे टी-20 मुकाबले में वेस्टइंडीज एक समय भारत द्वारा मिले 187 रनों के लक्ष्य के करीब पहुंचते दिख रही थी। उसके दो ही विकेट गिरे थे। निकोलस पूरन और रोवमन पॉवेल की जोड़ी भारत के लिए चुनौतीपूर्ण होती जा रही थी। दोनों खिलाड़ियों ने मिलकर 50 रनों से अधिक की साझेदारी भी कर ली थी। वेस्टइंडीज टीम को आखिरी के 12 गेंदों में 29 रनों की जरूरत थी। यहां 19वां ओवर लेकर आए भुवनेश्वर कुमार ने मैच का रुख भारत के पक्ष में डाल दिया। उन्होंने ओवर में महज चार रन देकर निकोलस पूरन का बड़ा विकेट हासिल किया। उन्होंने निकोलस पूरन को 62 के स्कोर पर रवि बिश्नोई के हाथों कैच कराया। इस तरह वेस्टइंडीज की टीम निर्धारित ओवरों में तीन विकेट पर 178 रन ही बना सकी। वेस्टइंडीज के लिए रोवमन पॉवेल ने 36 गेंदों में नाबाद 68 और निकोलस पूरन ने 41 गेंदों में 62 रनों की पारी खेली। इसके साथ ही भारत ने तीन मैचों की टी-20 सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली है। सीरीज का आखिरी मैच रविवार को खेला जाएगा।