Tue. Sep 27th, 2022

भाजपा का प्रदर्शन : कार्यकर्ताओं पर वाटर कैनन व लाठीचार्ज, सुकांत व शुभेन्दु सहित कई हिरासत में


हावड़ा, 13 सितंबर (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी की पश्चिम बंगाल इकाई के राज्य सचिवालय नवान्न के घेराव की कोशिश के दौरान हावड़ा और कोलकाता में कई जगह पुलिस कार्यकर्ताओं के बीच जबरदस्त टकराव हुआ है। संतरागाछी में पुलिस की एक गाड़ी में आग लगा दी गई है। पुलिस ने भाजपा के कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए बर्बर लाठीचार्ज कर आंसू गैस के गोले छोड़े हैं। पुलिस ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष और शुभेन्दु अधिकारी सहित कई नेताओं को हिरासत में लिया है और कई नेता व कार्यकर्ता घायल भी हुए हैं।

मंगलवार को भाजपा कार्यकर्ताओं के राज्य सचिवालय घेराे कार्यक्रम के दौरान कई स्थानों पर पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़पें हुई हैं। पुलिस लाठीचार्ज में भाजपा की वरिष्ठ नेत्री मीना देवी पुरोहित घायल हो गई हैं। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार को सांतरागाछी में सचिवालय से कुछ दूरी पर हिरासत में ले लिया गया है। वरिष्ठ भाजपा विधायक और नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी पहले ही हिरासत में लिए जा चुके हैं। भाजपा सांसद लॉकेट चटर्जी भी हिरासत में हैं।

पूर्व अध्यक्ष दिलीप घोष के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं का हुजूम फिलहाल सचिवालय की ओर बढ़ने की कोशिश कर रहा है। पुलिस ने कॉलेज स्ट्रीट, हावड़ा, संतरागाछी आदि क्षेत्रों में भाजपा के कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए लाठीचार्ज, आंसू गैस व वाटर कैनन का इस्तेमाल किया है। आंसू गैस और लाठीचार्ज से एक सौ से अधिक भाजपा कार्यकर्ता बीमार या घायल हो गए हैं। भाजपा ने पुलिस पर तृणमूल कांग्रेस के गुलाम की तरह काम करने का आरोप लगाया है। भाजपा कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर लाठीचार्ज करने का आरोप लगाया, जबकि भाजपा कार्यकर्ताओं पर पुलिस पर ईंट-पत्थर से हमला करने का भी आरोप लगाया है।

बताया गया कि दोपहर 1.15 बजे से सौमित्र खान के नेतृत्व में जुलूस संतरागाछी से सचिवालय की ओर बढ़ा रहा था लेकिन दो किलोमीटर पहले पुलिस ने रोक दिया। भाजपा कार्यकर्ताओं ने बैरिकेड तोड़कर आगे बढ़ने की कोशिश की। तभी स्थिति और अधिक बिगड़ गई। इसके बाद पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच जमकर हाथापाई हुई। इसके बाद 1.35 बजे पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं को तितर-बितर करने के लिए वाटर कैनन का प्रयोग किया। कई भाजपा कार्यकर्ताओं काे पुलिस ने कॉलर पकड़कर घसीटा है।

भाजपा कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के दौरान पुलिस की पिटाई के कई वीडियो सामने आए हैं। जिसमें महिलाओं को भी पुरुष पुलिसकर्मी दौड़ा-दौड़ा कर पीटते और जबरन घसीट कर गाड़ियों में डालते दिख रहे हैं। एक अन्य वीडियो में एक पुलिसकर्मी लात-घूसों से एक वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता के चेहरे पर लगातार वार करते दिखा है। इसका वीडियो भाजपा ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर भी साझा किया है।

महानगर में भाजपा के प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस ने शहरभर में कई स्थानों पर बैरिकेड्स, वाटर कैनन, दमकल की गाड़ियां, एम्बुलेंस के साथ सचिवालय की ओर जाने वाली सड़कों पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात किए हैं। राज्य के विभिन्न हिस्सों में भी भाजपा कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन को पुलिस ने रोकने की कोशिशें की हैं।