Thu. Aug 18th, 2022

बिहार के सभी जिलों में होगा ”उज्ज्वल भारत उज्ज्वल भविष्य- पावर @ 2047” उत्सव


बेगूसराय, 24 जुलाई (हि.स.)। आजादी के अमृत महोत्सव वर्ष में बिहार के सभी जिलों में 25 से 30 जुलाई तक उज्ज्वल भारत, उज्ज्वल भविष्य – पावर @ 2047 उत्सव का आयोजन किया जाएगा। इस उत्सव को लेकर बिहार सरकार के मुख्य सचिव आमिर सुबहानी द्वारा सभी डीएम को तैयारी पूरी करने का पत्र भेजा गया है।

जिसमें 25 से 30 जुलाई तक आजादी का अमृत महोत्सव के तहत ”उज्ज्वल भारत, उज्जवल भविष्य-पावर@2047” के उपलक्ष्य में उपलब्धियों को प्रदर्शित करने के लिए बिहार के विभिन्न गांवों और जिलों में उत्सव आयोजित किया जाना है। सभी जिलों में जनता के लिए विद्युत और नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में किए गए कार्य से संबंधित महोत्सव आयोजित किया जाएगा।

सभी जिले में कम से कम दो कार्यक्रम होंगे, जहां क्षेत्रीय भाषा में लघु फिल्म, वीडियो तथा पोस्टर की प्रदर्शनी होगी। इसके अतिरिक्त ग्रैंड फिनाले कार्यक्रम देश के एक सौ स्थानों पर सप्ताह के दौरान किसी एक दिन में हाइब्रिड मोड में आयोजित किया जाएगा। जिसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सौभाग्य, दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना एवं एकीकृत विद्युत विकास योजना (आईपीडीएस) जैसी योजनाओं के लाभार्थियों के साथ बातचीत कर सकते हैं।

उत्सव समारोह में भाग लेने के लिए स्थानीय जनप्रतिनिधि सांसद एवं विधायक आदि को आमंत्रित किया गया है। भारत सरकार के उपक्रमों द्वारा नियुक्त नोडल अधिकारी के साथ समन्वय करने के लिए जिला स्तर पर एक नोडल अधिकारी भी नियुक्त किया गया है।

डीएम रोशन कुशवाहा ने बताया कि उज्जवल भारत उज्जवल भविष्य के लिए आजादी के अमृत महोत्सव को लेकर बिहार सरकार के मुख्य सचिव के निर्देश के आलोक में बेगूसराय में दो जगहों पर इस कार्यक्रम की तैयारी पूरी कर ली गई है। उत्सव के आयोजन के लिए राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर से जुड़े स्थानों जिला मुख्यालय एवं दिनकर जी के पैतृक गांव का चयन किया गया है।

बेगूसराय में 26 जुलाई को जिला मुख्यालय के दिनकर भवन तथा 28 जुलाई को राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर के पैतृक गांव सिमरिया में स्थित दिनकर पुस्तकालय में कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।