Tue. Jun 28th, 2022

बालू माफियाओं पर चला जिलाधिकारी का हंटर


– बचाव के लिए कानपुर से लेकर लखनऊ का लग रहे चक्कर

कानपुर, 01 जून (हि.स.)। अवैध निर्माण अभियान के बाद अब जिलाधिकारी ने बालू माफियाओं पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। ताबड़तोड़ हो रही छापेमारी से बालू माफियाओं में बेचैनी बढ़ गई है और अपने बचाव के लिए कानपुर से लेकर लखनऊ का चक्कर लगा रहे हैं।

जिलाधिकारी नेहा शर्मा जनपद में हो रही बालू की अवैध खुदाई को लेकर संजीदा हो गई हैं। जिलाधिकारी ने अधीनस्थों को साफ निर्देश दिया है कि किसी भी हाल में अवैध बालू का खनन नहीं होना चाहिए। बीते दो दिनों में जिलाधिकारी ने उन जगहों का भी निरीक्षण किया जहां पर बालू के पट्टे संचालित हो रहे हैं। जिलाधिकारी ने निरीक्षण में पाया कि जितने वर्गफीट का पट्टा है उससे कहीं अधिक पर बालू खनन किया जा रहा है। इसे लेकर जिलाधिकारी ने पैमाइश करवाई और कार्रवाई के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि कहीं पर भी बालू का अवैध खनन हो रहा हो तो उसकी तत्काल जानकारी दी जाये। इसके साथ ही वैधानिक कार्रवाई भी की जाये।

जिलाधिकारी के सख्त रुख को देखते हुए इस कार्य में लगे माफियाओं में बेचैनी बढ़ गई है। सूत्रों का कहना है कि बालू माफिया जिलाधिकारी के रुख को देखते हुए बचाव के लिए कानपुर से लेकर लखनऊ तक भागदौड़ कर रहे हैं। उनका मानना है कि अगर बारिश के पहले तक यही स्थिति रही तो करोड़ों रुपयों का नुकसान हो जाएगा।