Wed. Aug 10th, 2022

बच्चों की खरीद-फरोख्त के आरोप में एनजीओ संचालिका समेत दो गिफ्तार


फरीदाबाद, 03 अगस्त (हि.स.)। बच्चों की खरीद-फरोख्त करने के आरोप में मुख्यमंत्री उड़दस्ते की टीम ने एक एनजीओ उड़ान की संचालिका सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार महिला हिना माथुर व उसका साथी पवन शर्मा गरीब परिवारों से सम्पर्क करके उन्हें अच्छी परवरिश कराने का झांसा देकर एक से दो लाख रुपए में नवजात शिशुओं को बेच देते हैं। जिन्होंने अभी तक कई बच्चों को बेच दिया है।

बुधवार को थाना शहर बल्लबगढ़ में जगदीश निरीक्षक मुख्यमंत्री उडऩ दस्ता फरीदाबाद की तहरीर पर अभियोग अंकित किया गया है। इस कार्यवाही को अंजाम देने के लिए एसडीएम सिंचाई विभाग राजकुमार को ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया। कार्रवाई करने के लिए उप निरीक्षक सतबीर सिंह मुख्यमंत्री उडऩ दस्ता फरीदाबाद व महिला सहायक उप निरीक्षक राजेश को फर्जी ग्राहक के तौर पर तैयार करके निसंतान दम्पति बनकर शिशु बेचने वालों से बात करने के लिए कहा गया, जिस पर पवन शर्मा व हिना ने एक लाख रुपये में बच्चा देने की बात तय की।

ड्यूटी मैजिस्ट्रेट द्वारा उप निरीक्षक सतबीर सिंह को 500-500 रुपये के 4 नम्बरी नोटों को हवाले करके बीच में सादा कागज की 2 गड्डी तैयार करने बारे कहा व उनके ऊपर नीचे 500-500 रुपये के नोट लगाने बारे कहा व रेडिंग पार्टी अलग से तैयार कराई गई। बातचीत होने उपरांत हिना व पवन शर्मा ने उप निरीक्षक सतबीर को सर्वोदय अस्पताल सेक्टर 8 फरीदाबाद के गेट पर आने को कहा।

एसआई सतबीर सिंह व महिला एएसआई के साथ परिवार के सदस्य के तौर पर राजकुमार एसडीओ कम ड्यूटी मजिस्ट्रेट भी सर्वोदय अस्पताल साथ गए। जहां सर्वोदय अस्पताल की कैंटीन में पवन शर्मा व हिना ने फर्जी ग्रहक व अन्य सदस्यों को अटल पार्क सेक्टर 2 फरीदाबाद के सामने हुडा मार्केट में बच्चा देने व पैसे लेने बारे बात की व पवन में सभी को अपने पीछे आने बारे कहा। जिस पर पवन व हिना अपनी कार से आगे आगे थे व टीम पीछे थी।

अटल पार्क के पास जाकर पवन व हिना ने सतबीर व अन्य से वही रुकने को कहा व स्वयं बच्चे को लेकर आने को बोला व कुछ देर बाद हिना व पवन बालिका लेकर मौका पर हाजिर आये व बच्चा सौप दिया व पैसे मांगे जिस पर एसआई सतबीर सिंह द्वारा लिफाफे में रखे पैसे पवन को दिए व रेडिंग पार्टी को आरोपीयों को मौका पर ही काबू कर लिया गया।