Fri. Jul 1st, 2022

प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर दुनिया ने अपनाया योग : अनुराग ठाकुर


सुजानपुर , 21 जून (हि.स.)। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण, युवा मामले और खेलमंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा है कि वर्ष 2014 में देश की बागडोर संभालते ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा को भारत की प्राचीन पद्धति योग का महत्व समझाया और दुनिया से इसे अपनाने की अपील की। उनके आह्वान पर दुनिया के सभी देशों ने इसे अपनाया और 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने का संकल्प लिया। भारत के लिए यह बहुत बड़ी उपलब्धि है।

ठाकुर मंगलवार सुबह अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य पर सुजानपुर के निकट टीहरा के कटोच पैलेस के परिसर में आयोजित योगाभ्यास सत्र में उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। नेहरू युवा केंद्र द्वारा भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग, पत्र सूचना कार्यालय, जिला प्रशासन, अन्य विभागों, शूलिनी विश्वविद्यालय, आर्ट ऑफ लीविंग और अन्य संस्थाओं के सहयोग से आयोजित इस योगाभ्यास सत्र में बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया।

इस अवसर पर ठाकुर ने कहा कि आज दुनिया भर के लोग योग को अपना रहे हैं। कॉरपोरेट घरानों, कार्यालयों, शॉपिंग मॉल्स, एयरपोर्ट, हवाई जहाज और रेल में लोग अक्सर योग करते नजर आ रहे हैं। इस बार 8वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस आजादी का अमृत महोत्सव के तहत देश भर के 75 प्रसिद्ध ऐतिहासिक धरोहर स्थलों पर योग फॉर ह्यूमैनिटी यानी मानवता के लिए योग थीम के साथ मनाया जा रहा है। इसी कड़ी में सुजानपुर के कटोच पैलेस में योगाभ्यास सत्र में भाग लेना प्रत्येक प्रतिभागी के लिए गौरव की बात है।

उन्होंने कहा कि आज हम आजादी के 75वें वर्ष में आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं और आने वाले 25 वर्षों में भारत को विश्व गुरु बनाने का संकल्प लेते हुए हर क्षेत्र के विकास में तेजी लाने के लिए अपने-अपने स्तर पर हरसंभव योगदान दें। उन्होंने कहा कि योग के साथ-साथ भारत शतरंज का भी जन्मदाता रहा है तथा इस वर्ष चैस ओलंपियाड की मेजबानी भी भारत ही कर रहा है। 28 जुलाई से आरंभ होने वाले चेस ओलंपियाड में लगभग 188 देशों के खिलाड़ी भाग लेंगे। अनुराग ने बताया कि पहली बार चेस ओलंपियाड टॉर्च रिले की शुरुआत की गई है और भविष्य में भी हर चैस ओलंपियाड के लिए इस टॉर्च रिले की शुरुआत भारत से ही की जाएगी।

इससे पहले केंद्रीय मंत्री ने दीप प्रज्जवलित करके योगाभ्यास सत्र का शुभारंभ किया। कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संबोधन का सीधा प्रसारण दिखाया गया। इसके बाद आर्ट ऑफ लीविंग एवं आयुष विभाग के विशेषज्ञों ने उपस्थित लोगों को योगाभ्यास करवाया।