Wed. Jun 29th, 2022

पूर्व सीएम त्रिवेंद्र ने सती मां अनसूया के दरबार में की पूजा-अर्चना


गोपेश्वर, 24 मई (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत मंगलवार को चमोली जिले के मंडल घाटी स्थित पुत्र दायिनी सती मां अनुसूया मंदिर पहुंचे। उन्होंने पूजा-अर्चना कर जगत कल्याण की मनोकामना की।

जनपद चमोली के द्वार मंडल घाटी में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने ढोल नगाड़ों से पूर्व मुख्यमंत्री का स्वागत किया। जिले में हो रही भारी बरसात के बाद भी पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत पैदल चलकर माता माता अनसूया के मंदिर में पहुंचे और वहां पूजा अर्चना की। साथ ही उन्होंने अपने कार्यकाल में मंदिर में कार्यों के लिए दी गई धनराशि से हुए निर्माण कार्य का भी अवलोकन किया।

पूरे मंदिर प्रांगण और सुंदर पर्वत वादियां बुग्याल झील झरने और सुंदर पहाड़ियों को देखकर उन्होंने कहा कि यह स्थान देवस्थान है और यहां तीर्थाटन को बढ़ावा देने के लिए अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने प्रदेश से बाहर से आये तीर्थ यात्रियों से भी बातचीत की। स्थानीय जनता एवं जनप्रतिनिधियों ने पूर्व मुख्यमंत्री से मंदिर प्रांगण तक सड़क यातायात मार्ग की मांग की। ग्रामीणों ने कहा कि उनके कार्यकाल में यहां पर पांच किलोमीटर सड़क स्वीकृत हुई थी, लेकिन अभी तक उसका कार्य आरंभ नहीं हुआ है।

पूर्व सीएम ने कहा कि वे पूरा प्रयास करेंगे कि किस स्तर पर मार्ग निर्माण का कार्य रुका हुआ है उसे पूर्ण प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यहां पर तीर्थाटन के साथ-साथ पर्यटन की भी अपार संभावनाएं हैं इस पर भी हम सबको जोर देने की आवश्यकता है जिससे बेरोजगारी और यहां की आर्थिकी को मजबूती मिल सके।

इस अवसर पर पार्टी के जिलाध्यक्ष रघुवीर सिंह बिष्ट, पूर्व विधायक महेंद्र भट्ट, पूर्व राज्य मंत्री रिपुदमन सिंह रावत, पूर्व राज्य मंत्री महाधिवक्ता एडवोकेट पृथ्वीराज चैहान, राज्यमंत्री शमशेर सिंह सत्याल, जिला पंचायत सदस्य एवं मंडल अध्यक्ष विक्रम सिंह बत्र्वाल, नगर मंडल अध्यक्ष विनोद सिंह कनवासी, नगर अध्यक्ष प्रियंका बिष्ट, अनुसूचित जाति मोर्चा के मंडल अध्यक्ष अमित मंडी, एडवोकेट डीपी पुरोहित आदि उपस्थित रहे।