Mon. Aug 8th, 2022

पुलिस आयुक्त ने स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर सुरक्षा तैयारियों पर की चर्चा


नई दिल्ली, 02 अगस्त (हि.स.)। दिल्ली के नव नियुक्त पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा ने पद संभालने के बाद संजय अरोड़ा ने दो महत्वपूर्ण बैठक पुलिस अधिकारियों के साथ की। सुबह के समय आयोजित पहली बैठक में उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ परिचय किया तो वहीं शाम की बैठक में स्वतंत्रता दिवस की सुरक्षा को लेकर चर्चा की। उन्होंने पुलिस द्वारा की जा रही तैयारियों की जानकारी ली। उन्होंने सोमवार को चार्ज लेते समय अपनी प्राथमिकताओं को लेकर किसी प्रकार की जानकारी सांझा नहीं की।

जानकारी के अनुसार, नव नियुक्त पुलिस आयुक्त ने पुलिस मुख्यालय में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की बैठक ली। इस बैठक में विशेष आयुक्त एवं संयुक्त आयुक्त स्तर के अधिकारी शामिल हुए। इस बैठक में उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ परिचय किया क्योंकि वह इन अधिकारियों से परिचित नहीं थे। दूसरे कैडर से आने के चलते उन्होंने दिल्ली पुलिस की संरचना को लेकर जानकारी हासिल की।

दिल्ली पुलिस कमिश्नर के लिए अभी सबसे बड़ी चुनौती शांतिपूर्ण ढंग से स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम के आयोजन को सफल बनाना है। इसके चलते उन्होंने स्वतंत्रता दिवस की सुरक्षा को लेकर एक बैठक बुलाई। इस बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के अलावा लाल किला एवं इसके आसपास के क्षेत्र की सुरक्षा जिम्मेदारी संभालने वाले अधिकारी भी शामिल हुए। बैठक में कमिश्नर को बताया गया कि दिल्ली पुलिस की तरफ से प्रत्येक वर्ष किस तरह की तैयारियां होती हैं और इस वर्ष किस तरह के सुरक्षा बंदोबस्त किए जा रहे हैं।

उन्होंने लाल किला के आसपास सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त करने के निर्देश दिए। आमतौर पर पुलिस कमिश्नर का पदभार संभालते समय अधिकारी मीडिया के समक्ष अपनी प्राथमिकताएं बताते हैं। कोई महिला सुरक्षा को अपनी प्राथमिकता बताते हैं तो कोई कमिश्नर साइबर अपराध पर लगाम लगाने का आश्वासन देते हैं, लेकिन पुलिस कमिश्नर संजय अरोड़ा ने चार्ज लेने के बाद किसी प्रकार की प्राथमिकता को लेकर मीडिया से बातचीत नहीं की।

उन्होंने किसी प्रकार का बयान भी पुलिस मुख्यालय की तरफ से जारी नहीं करवाया। हालांकि देर रात उन्होंने दिल्ली पुलिस कर्मचारियों के लिए अपना वीडियो संदेश जारी किया। उन्होंने दिल्ली पुलिस की सराहना करने के साथ मिलकर सभी चुनौतियों का सामना करने की बात कही।

आगे उन्होंने कहा, दिल्ली पुलिस के सभी सहकर्मियों के साथ काम करना मेरे लिए गौरव की बात है। बीते 75 वर्षों में दिल्ली पुलिस कई अहम बदलावों एवं महत्वपूर्ण घटनाओं की साक्षी रही है। पुलिस ने बड़ी से बड़ी चुनौती का सफलतापूर्वक सामना किया है। आप लोगों के अथक परिश्रम के चलते पुलिस ने दिल्लीवासियों का विश्वास और प्रेम हासिल किया है। वहीं देश के सभी पुलिस बलों के बीच अपनी गरिमामय उपस्थिति दर्ज की है”।