Sun. May 22nd, 2022

पुलवामा मुठभेड़ में अल-बदर के दो आतंकी मारे गए


पुलवामा, 28 अप्रैल (हि.स.)। पुलवामा जिले के मित्रीगाम इलाके में बुधवार रातभरी चली मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने आतंकी संगठन अल-बदर के दो आतंकियों को मार गिराया। सुरक्षाबलों ने आतंकियों के शवों के साथ हथियार तथा गोलाबारूद भी बरामद किया है।

आइजीपी कश्मीर विजय कुमार ने पुलवामा मुठभेड़ में दो आतंकवादियों के मारे जाने की पुष्टि करते हुए कहा कि ये दोनों आतंकी अल-बदर आतंकी संगठन से संबंधित थे। इस वर्ष मार्च-अप्रैल के दौरान पुलवामा में की गई प्रवासी मजदूरों की हत्या व हमलों में शामिल रहे हैं। मुठभेड़ स्थल से दो एके राइफल समेत गोला बारूद भी बरामद हुआ है।

आइजीपी ने दोनों आतंकियों की पहचान एजाज हाफिज और शाहिद अयूब के रूप में बताई है। उन्होंने बताया कि इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों का एक जवान भी घायल हुआ है। उसका इलाज चल रहा है और उसकी हालत बेहतर है।

उल्लेखनीय है कि बुधवार दोपहर जिले के मित्रिगाम इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में जानकारी मिलने के बाद सेना, सीआरपीएफ और पुलिस की संयुक्त टीम ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर आतंकियों की धर-पकड़ के लिए अभियान शुरू किया। इस दौरान आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई।

इस गोलीबारी के बीच सुरक्षा बलों का एक जवान घायल हो गया। घायल जवान को तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया। इस दौरान सुरक्षाबलों ने अपनी कार्रवाई तेज करते हुए घेराबंदी सख्त कर दी। इसी दौरान दोनों ओर से गोलीबारी चलती रही। मुठभेड़ के दौरान रात में रोशानी के लिए सुरक्षा बलों ने फ्लड लाइट्स का इस्तेमाल किया ताकि आतंकी अंधेरे का फायदा उठाकर भाग न सकें। सुरक्षाबलों ने आतंकियों को कई बार आत्मसमर्पण करने का मौका भी दिया।