Wed. Feb 21st, 2024

पुतिन कभी भी अपने हाथों से यूक्रेन का खून साफ नहीं कर पाएंगे: बोरिस जानसन


मास्को, 25 फरवरी (हि.स.)। यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद सीमा पर हालात बेहद खराब हो गए हैं। सैनिकों के साथ यूक्रेन के नागरिकों के हताहत होने की सूचना है। वहीं रूस के इस कदम से अमेरिका समेत विभिन्न यूरोपीय देशों के प्रमुख राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की आलोचना कर रहे हैं।
इसी कड़ी में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने संसद में कहा कि रूस के राष्ट्रपति पुतिन कभी भी अपने हाथों से यूक्रेन का खून साफ नहीं कर पाएंगे। ब्रिटेन ने रूस के एयरोफ्लोट, बैंकों, व्यवसायों, कुलीन वर्गों पर प्रतिबंध लगाने की बात कही है।
हमारे सुरक्षा सैनिक दे रहे अपनी जान: जेलेंस्की
रूस द्वारा यूक्रेन के कई शहरों में तेज होते हवाई हमलों के बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा कि 30 से अधिक हमलों के साथ नागरिक और सैन्य बुनियादी ढांचे पर हमला किया गया है, जिसमें कैलिबर क्रूज मिसाइल भी शामिल हैं। रूसी सैनिक चेर्नोबिल पर कब्जा करने की कोशिश कर रहे हैं। हमारे सुरक्षा सैनिक अपनी जान दे रहे हैं, ताकि 1986 की त्रासदी दोबारा न हो।
हवाई हमले के बाद अफरा-तफरी
युद्ध के एलान के बाद से यूक्रेन में अफरा-तफरी का माहौल है। रिपोर्ट के अनुसार रूस के अपने संभावित सैन्य हमले की शुरुआत के बाद देश के प्रमुख शहरों में हवाई हमले के सायरन बजने से डरे यूक्रेन के लोग राजधानी कीव में मेट्रो स्टेशनों पर पहुंचे हुए हैं।
कीव में भारतीय दूतावास कर रहा काम
यूक्रेन पर हमले के बीच भारतीय राजदूत पार्थ सत्पथ्य ने कहा कि राजधानी कीव स्थित दूतावास खुला हुआ है और काम कर रहा है। हम इस कठिन परिस्थिति का समाधान खोजने के लिए मिशन मोड पर काम कर रहे हैं।
जेलेंस्की से अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन ने की बात
रूस के हमले के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की से बात की। राष्ट्रपति बाइडन ने कहा कि मैं G7 के नेताओं के साथ शुक्रवार को बैठक करूंगा और हमारे सहयोगी देशों के साथ मिलकर रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाएंगे। इस बीच हम यूक्रेन और उनके लोगों को समर्थन और सहायता देना जारी रखेंगे।