Fri. Jul 1st, 2022

पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से चली तेज हवाएं, जन जीवन हुआ अस्त व्यस्त


– जगह जगह गिरे पेड़ और बिजली के पोल, बचाव करते रहे लोग

कानपुर, 23 मई (हि.स.)। मौसम विभाग का पूर्वानुमान सोमवार को सटीक साबित हुआ और करीब 80 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से तेज आंधी आई। तेज आंधी से बिजली के पोल और पेड़ जगह जगह पर गिरे पड़े दिखाई दिये और इस दौरान लोग अपना बचाव करते दिखे। तेज धूल भरी आंधी से वाहन जहां के तहां खड़े हो गये और सड़कों पर अंधेरा छा गया। भीषण आंधी से लोगों का जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया।मौसम विभाग का कहना है कि अभी दो दिन इसी तरह का मौसम बना रहेगा। हालांकि इस मौसम से लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिल सकी और करीब चार डिग्री सेल्सियस तापमान गिर गया।

चन्द्रशेखर आजाद कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डॉ एस एन सुनील पाण्डेय ने बताया कि कई दिनों से दक्षिण पूर्वी हवाएं चल रही है। इससे पश्चिमी विक्षोभ और सक्रिय हो गया जिससे पूर्वानुमान लगाया गया था कि सोमवार से बुधवार तक कानपुर परिक्षेत्र सहित उत्तर प्रदेश में तेज आंधी आएगी और हुआ भी वैसा। बताया कि सोमवार को तेज आंधी ने गर्मी से बड़ी राहत दिला दी। करीब 80 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलीं हवाओं ने मौसम भले ही खुशगवार कर लिया लेकिन इस दौरान पूरे शहर की बिजली गुल हो गई। कई स्थानों पर पोल गिरने से तार टूट गए। पेड़ भी गिरे। पेड़ों की टहनियां टूट कर बिजली की लाइनों पर गिर गईं। कानपुर मंडल के जिलों में भी भीषण आंधी की सूचनाएं हैं। भीषण आंधी से जो लोग जहां थे वहीं सुरक्षित स्थान तलाशने लगे। बताया कि आंधी से अधिकतम तापमान भी गिर गया। करीब चार डिग्री तक तापमान में गिरावट रही। दोपहर एक बजे अधिकतम तापमान विभिन्न क्षेत्रों में 35 से 37 डिग्री के बीच रहा। अगले 24 घंटे तक इसी तरह का मौसम बना रहेगा।