Mon. May 23rd, 2022

पठानकोट हमले में इस्तेमाल ग्रेनेड से मेल खाता है मोहाली का ग्रेनेड


चंडीगढ़, 10 मई (हि.स.)। पंजाब के मोहाली में इंटेलिजेंस हेडक्वार्टर पर हुए हमले में इस्तेमाल किया गया ग्रेनेड करीब छह साल पहले पठानकोट में हुए हमले से मेल खाता है।

पंजाब पुलिस महानिदेशक वीके भावरा ने बताया कि पुलिस कई पहलुओं के आधार पर जांच कर रही है। चंडीगढ़ व हरियाणा पुलिस के साथ इस बारे सूचना साझा की गई है।

चंडीगढ़ की बुड़ैल जेल के पास भी कुछ दिन पहले विस्फोटक मिल चुका है। दोनों घटनास्थलों में अधिक दूरी नहीं है।

उन्होंने बताया कि अभी तक इस बारे में पुख्ता जानकारी नहीं है लेकिन ऐसे संकेत मिले हैं कि पठानकोट में वर्ष 2016 के दौरान हुए आतंकी हमले में इस्तेमाल ग्रेनेड व मोहाली हमले के इस्तेमाल ग्रेनेड मेल खाते हैं। उन्होंने कहा आतंकी हमले की घटना से इनकार नहीं किया जा सकता। हमले के आतंकी कनेक्शन खंगालने में पुलिस टीमें काम कर रही हैं।

डीजीपी ने बताया कि मोहाली जिले के सोहाना पुलिस थाने में अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। पंजाब में रात को ही अलर्ट घोषित कर दिया गया था। सभी सीमाओं को सील कर सर्च की जा रही है। बहुत जल्द इन हमले के सुराग मिलेंगे।