Mon. Aug 8th, 2022

नेशनल हेराल्ड मामले में ईडी की बड़ी छापेमारी, हेराल्ड हाउस सहित 12 स्थानों पर कार्रवाई


नई दिल्ली, 02 अगस्त (हि.स.)। नेशनल हेराल्ड मामले में मंगलवार को प्रवर्तन निदेशालय ने बहादुरशाह जफर मार्ग स्थित हेराल्ड हाउस सहित दिल्ली में विभिन्न स्थानों पर धन शोधन से जुड़े मामलों में छापेमारी की कार्रवाई की।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की ओर मंगलवार को नेशनल हेराल्ड के दिल्ली ऑफिस हेराल्ड हाउस समेत कोलकाता और देश के अन्य 12 ठिकानों पर छापेमारी की। कांग्रेस ने एक बार फिर इसे बदले की कार्रवाई करार दिया है।

नेशनल हेराल्ड मामले में शीर्ष जांच एजेंसी कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से पांच दिन और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से तीन दिन पूछताछ कर चुकी है।

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट कर कहा कि केन्द्र सरकार भारत के मुख्य विपक्षी दल को जानबूझ कर परेशान कर रही है। रमेश ने कहा कि मोदी सरकार के विरुद्ध आवाज उठाने के कारण कांग्रेस को चुप कराने का प्रयास किया जा रहा है लेकिन कांग्रेस बिना डरे जनता के मुद्दों को उठाती रहेगी।

जयराम रमेश ने कहा कि आज मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के खिलाफ जारी प्रहार के तहत बहादुर शाह जफर मार्ग स्थित हेराल्ड हाउस में रेड किया गया है। जिसकी कांग्रेस कड़ी भर्त्सना करती है।

यह पूरा मामला नेशनल हेराल्ड समाचार पत्र से जुड़ा है जिसे कांग्रेस पार्टी चलाती है। भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी की ओर से दिल्ली के ट्रायल कोर्ट को इस बारे में शिकायत की गई थी। इसके बाद आयकर विभाग की जांच शुरू हुई थी।

नेशनल हेराल्ड मामला इक्विटी लेनदेन में 02 हजार करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति के कथित दुरुपयोग से संबंधित है। स्वामी ने अपनी शिकायत में कहा था कि नेशनल हेराल्ड समाचार पत्र के अधिग्रहण के दौरान हेराफेरी की गई है।

उल्लेखनीय है कि ईडी ने अप्रैल में पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे से मनी लॉन्ड्रिंग जांच के सिलसिले में पूछताछ की थी।

इस मुद्दे पर फेसबुक पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि खुद को अकेला मत समझना, कांग्रेस आपकी आवाज है और आप कांग्रेस की ताकत हैं। केन्द्र सरकार के इस फरमान से कांग्रेस डरेगी नहीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस जनता की आवाज उठाती रहेगी।